ज्यादा नमक खाना कहीं बिगाड़ ना दे आपका सेहत

नमक की मात्रा ज्यादा होने से आपके खून का क्षेत्रफल बढ़ सकता है

ज्यादा मात्रा में नमक का सेवन सेहत पर उल्टा असर कर सकता है और शरीर में कई तरह की समस्याएं पैदा हो सकती हैं.

इसलिए यह जानना बेहद जरूरी हो जाता है कि नमक कितनी मात्रा में लेना चाहिए.

इसके अलावा पका हुआ नमक और सादा नमक खाने के फायदे-नुकसान के बारे में भी बात होनी चाहिए. चलिए जानते हैं ऐसी ही सवालों के जवाब.

क्योंकि शरीर में नमक की मात्रा ज्यादा होने से आपके खून का क्षेत्रफल बढ़ सकता है और इससे धमनियों और दिल को ज्यादा ब्लड पंप करना पड़ता है.

ज्यादा नमक खाने से हड्डियों से कैल्शियम की मात्रा कम होने लगती है, जिससे औस्टियोपोरोसिस और अल्सर जैसे रोगों के होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

कई जानकार नमक के अधिक सेवन को मस्तिष्क से भी जोड़ते हैं और उनके अनुसार सोडियम से मस्तिष्क पर भी असर पड़ता है और डीमेंशिया हो सकता है.

कितना नमक खाना चाहिए

अमेरिकन हर्ट एसोसिएशन के अनुसार एक व्यक्ति को पूरे दिन में 3000 से 4000 मिलीग्राम से ज्यादा सोडियम नहीं लेना चाहिए.

सोडियम की अधिक मात्रा से ब्लड प्रेशर जैसे कई रोग होने लगते हैं और यह किसी बड़ी बीमारी का कारण भी बन सकते हैं.

इसलिए पूरी तरह से सेहतमंद व्यक्ति के शरीर को हर दिन 6 ग्राम से भी कम यानी लगभग एक चम्मच नमक की जरूरत होती है.

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक, बिना पका हुआ नमक सर्कुलेटरी सिस्टम और नर्वस सिस्टम दोनों को नुकसान पहुंचाता है.

इससे ब्लड प्रेशर और हायपर टेंशन का खतरा बढ़ सकता है. जबकि नमक पक जाता है तो आयरन का स्ट्रक्चर सरल हो जाता है और पचाने में आसानी होती है.

Back to top button