अंतर्राष्ट्रीय

मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद लाहौर से गिरफ्तार…

इस्लामाबाद : दुनिया का मोस्ट वॉन्टेड आतंकवादी और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को बुधवार को पाकिस्तान में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। हाफिज को लाहौर से गुजरांवाला जाते वक्त काउंटर टेररिजम विभाग ने गिरफ्तार किया।

खास बात है यह है कि सईद की गिरफ्तारी आतंकी फंडिंग के आरोप में हुई है।हालांकि, पाकिस्तान की इस कार्रवाई पर बहुत भरोसा नहीं किया जा सकता है, क्योंकि हाफिज पर पहले भी ऐक्शन लिए जाने का ड्रामा किया चुका है, लेकिन उसके खिलाफ प्रभावी कदम कभी नहीं उठाया गया।

इस बीच, यह भी कहा जा रहा है कि आर्थिक रूप से बदहाल पाकिस्तान दुनिया को भ्रम में रखने के लिए भी यह कार्रवाई कर रहा है। दरअसल, पाकिस्तान को फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) से ब्लैक लिस्ट होने का डर सता रहा है।

पाकिस्तानी न्यूज चैनल जियो टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, आतंकवादरोधी विभाग (सीटीडी) ने सईद को उस समय गिरफ्तार किया जब वह टेरर फंडिंग से संबंधित एक मामले में अदालत में पेश होने के लिए लाहौर से गुजरांवाला जा रहा था। सीटीडी अधिकारी इस गिरफ्तारी के संबंध में बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर सकते हैं। लाहौर स्थित आतंकवादरोधी अदालत (एटीएस) ने सोमवार को सईद तथा तीन अन्य को एक मदरसे की भूमि को अवैध कार्यों के लिए इस्तेमाल किए जाने के एक मामले में जमानत दी थी।

ब्लैक लिस्ट से बचने के लिए पाक का ‘खेल’

बता दें कि आर्थिक रूप से खस्ता हाल पाकिस्तान किसी तरह की पाबंदी झेल पाने की स्थिति में नहीं है, इसलिए वह नहीं चाहते हुए भी खुद के पाले-पोसे आतंकियों पर कार्रवाई का दिखावा करने पर मजबूर है। हाफिज सईद संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएनओ) ने ग्लोबल टेररिस्ट घोषित है। अमेरिका भी उसे अपनी तरफ से वैश्विक आतंकवादी घोषित करते हुए भारी-भरकम इनाम रखा है।

मुंबई हमले के वकील बोले-ड्रामा है

मुंबई हमले के वकील उज्ज्वल निकम ने हालांकि पाकिस्तान की इस कार्रवाई को महज दिखावा बताया है। हमने मुंबई हमले के बारे में पाकिस्तान को सबूत सौंपे थे। पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय दबाव के कारण दुनिया को धोखा दे रहा है। देखना होगा पाकिस्तान हाफिज के खिलाफ कितना सबूत कोर्ट में पेश करता है और उसे कितनी सजा होगी। नहीं तो मैं इसे एक ड्रामा ही कहूंगा।

मुंबई हमले का मास्टरमाइंड है हाफिज

गौरतलब है कि हाफिज ने ही 26 नवंबर, 2008 को मुंबई में हुए आतंकवादी हमले की साजिश रची थी। भारत ने उसके खिलाफ पाकिस्तान को कई सबूत दिए, लेकिन वह हाफिज पर ठोस कार्रवाई की जगह दिखावा ही करता रहा है। दरअसल, पाकिस्तान ने हाफिज जैसे सैकड़ों खूंखार आतंकवादियों को खुद पाले और उन्हें भारत,

ईरान, अफगानिस्तान आदि पड़ोसी देशों के खिलाफ इस्तेमाल किया है। अब पूरी दुनिया इस मसले पर पाकिस्तान को घेरने लगी तो वह खुद को पाक साफ साबित करने की कोशिश में जुट गया। हालांकि, दुनिया के पता है कि इन आतंकवादियों को पाकिस्तानी आर्मी का अब भी भरपूर सहयोग प्राप्त है।

Tags
Back to top button