बीसीसीआई की सीनियर महिला वनडे ट्रॉफी मैच में मुंबई ने नगालैंड को 17 रनों से हराया

मुंबई ने 18 रनों के मामूली लक्ष्य को महज 4 ओवरों में ( 20/0 ) हासिल किया

नई दिल्ली: इंदौर के होल्कर स्टेडियम में बीसीसीआई की सीनियर महिला वनडे ट्रॉफी मैच में नगालैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. नगालैंड की महिलाएं एक-एक कर आउट होकर पवेलियन लौटती गईं. कोई भी बल्लेबाज दोहरे अंकों में नहीं पहुंच पाईं. नागालैंड की पूरी टीम 17.4 ओवरों में 17 रनों पर सिमट गई.

इसके बाद मुंबई ने 18 रनों के इस मामूली लक्ष्य को महज 4 ओवरों में ( 20/0 ) हासिल कर लिया. और नगालैंड को 17 रनों से हरा दिया. छह बल्लेबाज तो अपना खाता भी नहीं खोल सकीं. सरिबा ने सबसे ज्यादा 9 रन‌ बनाए.

मुंबई की ओर से सयाली सतघरे ने 5 रन देकर 7 विकेट निकाले. एम. दक्षिणी ने दो विकेट निकाले, जबकि एस. ठाकोर ने एक विकेट लिया. मुंबई की गेंदबाजों ने नौ मेडन ओवर डाले.

जवाब में मुंबई ने चार गेंदों में बिना किसी नुकसान के 20 रन बनाकर मैच जीत लिया. यानी 296 गेंदें शेष रहते मुंबई ने यह लक्ष्य हासिल कर लिया. ईशा ओजा 13 और वृषाली भगत छह रन बनाकर नाबाद रहीं.

इयोन मोर्गन 2017 में ऐसा ही मुकाबला नगालैंड और केरल की महिला अंडर-19 टीम के बीच हुआ था. गुंटूर में खेले गए उस 50 ओवरों के मैच में नगालैंड की टीम 17 ओवर में 2 रन बनाकर आउट हो गई थी. उसमें भी एक रन बल्लेबाज ने बनाया और दूसरा रन वाइड बॉल से बना. नागालैंड के 9 खिलाड़ी बिना खाता खोले आउट हुईं. ओपनर बल्लेबाज मेनका ने एक रन बनाने के लिए 18 गेंदें खेलीं. जवाब में केरल ने पहली गेंद पर लक्ष्य हासिल कर लिया था.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button