MRI मशीन में फंसकर शख्स की कंपकंपा देने वाली मौत, कमरे में घुसते हुए पकड़ा दिया था सिलेंडर

आरोप है कि एमआरआई रूम के बाहर अस्पताल के वार्ड बॉय ने शरीर पर से घड़ी ओर सोने की चैन तो उतरवा ली लेकिन मरीज को दिया जा रहा ऑक्सीजन सिलिंडर अंदर ले जाने को कहा.

मुंबई: मुंबई के नायर अस्पताल में एक दिल दहलाने वाला हादसा हो गया. 32 साल के राजेश मारू को एमआरआई मशीन ने इस कदर अपनी तरफ खींच लिया कि उसके हाथ में पकड़ा हुआ ऑक्सीजन सिलेंडर खुल गया और गैस पूरी पेट मे चली गई.

बताते हैं कि गैस पेट में जाते ही वो गुब्बारे की तरह फूलने लगा. आंखें बाहर आ गईं और उसी जगह पर उसकी मौत हो गई.

राजेश मारू के जीजा हरीश सोलंकी ने बताया कि उनकी मां की तबियत खराब थी इसलिए नायर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों ने मां का एमआरआई करवाने के लिए कहा. साथ में राजेश भी था.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

आरोप है कि एमआरआई रूम के बाहर अस्पताल के वार्ड बॉय ने शरीर पर से घड़ी ओर सोने की चैन तो उतरवा ली लेकिन मरीज को दिया जा रहा ऑक्सीजन सिलिंडर अंदर ले जाने को कहा.

हरीश के मुताबिक, उन्होंने विरोध किया लेकिन साथ में आए वार्ड ब्यॉय ने बताया कि अभी मशीन बंद है. उसके बाद जैसे ही राजेश कमरे में अंदर गया मशीन ने सिलिंडर को अपनी तरफ खींच लिया.

सिलिंडर को पकड़े हुए राजेश भी मशीन में चला गया. तभी दबाव से सिलिंडर का ढक्कन खुल गया और पूरी गैस राजेश के पेट मे चली गई. हरीश का कहना है कि वार्ड ब्यॉय के साथ मिलकर हमने तुरंत उसे खींचना चाहा. उसे खींच भी लिया लेकिन तब तक वो उसकी आंखें बाहर आ चुकी थीं.

इस पूरे मामले को लेकर अग्रिपाड़ा पुलिस जांच कर रही है. पुलिस मृतक के रिश्तेदारों के अलावा अस्पताल के वार्ड बॉय और टेक्नीशियन से भी पूछताछ कर रही है लेकिन जिस तरह ये हादसा हुआ है, वह लापरवाह अस्पताल प्रशासन की पोल खोलने के लिये काफी है.

1
Back to top button