कंगना के ड्रग सेवन की जांच करेगी मुंबई पुलिस, अभिनेत्री ने किया पलटवार

इससे पहले गृह मंत्री देशमुख ने कहा है कि विधायक सुनील प्रभु और प्रताप सरनाईक द्वारा प्रस्तुत अनुरोध के अनुसार, मैंने विधानसभा में जवाब दिया और कहा कि कंगना रनौत के संबंध अध्ययन सुमन के साथ थे, जिन्होंने एक साक्षात्कार में कहा कि वह ड्रग्स लेती हैं और उन्हें मजबूर भी करती हैं। मुंबई पुलिस इस मामले पर गौर करेगी।

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। कंगना के मुंबई को लेकर दिए गए बयान की वजह से उनके और महाराष्ट्र सरकार के बीच तल्खियां बढ़ गई हैं। महाराष्ट्र सरकार ने फैसला किया है कि वह कंगना के ड्रग कनेक्शन की जांच करेगी। सूबे के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इसकी पुष्टि की है।

उधर मुंबई पुलिस द्वारा ड्रग्स मामले में कंगना रनौत की जांच करने को लेकर अब अभिनेत्री ने पलटवार किया है। कंगना ने कहा, ‘मैं मुंबई पुलिस और गृह मंत्री अनिल देशमुख का आभार जताती हूं। कृपया मेरे ड्रग टेस्ट, मेरे कॉल रिकॉर्ड की जांच करें। यदि आपको ड्रग पेडलर्स के साथ कभी कोई लिंक मिलता है तो मैं अपनी गलती स्वीकार करूंगी और हमेशा के लिए मुंबई छोड़ दूंगी, आपसे मिलने के लिए उत्सुक।’

इससे पहले गृह मंत्री देशमुख ने कहा है कि विधायक सुनील प्रभु और प्रताप सरनाईक द्वारा प्रस्तुत अनुरोध के अनुसार, मैंने विधानसभा में जवाब दिया और कहा कि कंगना रनौत के संबंध अध्ययन सुमन के साथ थे, जिन्होंने एक साक्षात्कार में कहा कि वह ड्रग्स लेती हैं और उन्हें मजबूर भी करती हैं। मुंबई पुलिस इस मामले पर गौर करेगी।

शिवनेता नेता सुनील प्रभु

दरअसल, शिवनेता नेता सुनील प्रभु और प्रताप ने अध्ययन सुमन के एक पुराने साक्षात्कार की एक कॉपी महाराष्ट्र सरकार को सौंपी। जिसमें सुमन ने कंगना पर आरोप लगाया था कि वह ड्रग का सेवन करती हैं और उन्हें भी जबरदस्ती इसका सेवन कराया था। इसी के आधार पर अब सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं।

गौरतलब है कि कल ही महाराष्ट्र कांग्रेस ने कंगना रनौत से जुड़े ड्रग लिंक्स की जांच की मांग की थी। कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा था कि कंगना के कुछ वीडियो सामने आए हैं, जिसमें अभिनेत्री ने स्वीकार किया है कि वह ड्रग का सेवन करती हैं। अगर ये बात सच है तो उन्हें ड्रग की सप्लाई कौन करता था। एनसीबी को कंगना से जुड़े मामले की भी जांच करनी चाहिए।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button