मुंगेली भाजपा नेता प्रेम आर्य ने स्थापना दिवस पर पुराने संस्मरण किए साझा

मनीष शर्मा:
बिलासपुर: आज 6 अप्रैल 2020 को भारतीय जनता पार्टी का 40वीं स्थापना दिवस है। भाजपा के स्थापना दिवस के अवसर पर भाजपा नेता प्रेम आर्य ने भाजपा की नींव रखने वाले क्षेत्र के सभी वरिष्ठ जनो को याद कर उनके द्वारा पार्टी के योगदान को साझा किया।

प्रेम आर्य आज स्थापना दिवस पर बताया कि जिन्होने पार्टी में अनुशासित रहकर मजबूती के लिए और जन संघ के समय मेरे मार्गदर्शक मण्डल ने चना फूटेना और गुड खाकर भी संगठन के लिए निःस्वार्थ भाव से काम करके पार्टी को इस मुकाम तक पहुंचाया।

प्रमुख रूप से स्व. निरंजन प्रसाद केशरवानी, स्व. फूलचंद जैन, स्व.मनहरनलाल पाण्डे, स्व. अभयराम साव, स्व. पोशागीलाल राजपूत, स्व.मानूप्रताप तिवारी, स्व. लक्ष्मण दास रोहरा, स्व.डॉ.केशव मिश्रा, स्व. रामानुज श्रीवास्तव, स्व. त्रिभुवन श्रीवास्तव, स्व. तुलाराम स्वर्णकार स्व. नन्हूलाल सोनी, स्व. ललिता प्रसाद शुक्ला, स्व.मुनीराम कश्यप, स्व. जवाहर सिंह, स्व. चद्रगुप्त सिंह, स्व. भुवन सिंह राजपूत, स्व.श्री शरद केसवानी, स्व. श्री प्रेमसिंह ध्रुव, स्व. भोलासिंह ध्रुव, स्व. दिलीप खरे, स्व. गंभीरदास पात्रे, स्व शंकरलाल जायसवाल, स्व. अनिल गुप्ता, डॉ.भानू गुप्ता, प्रेमसिंह बघेल, शिवकुमार पाठक, मुरली पाण्डेय, सात्यिकी सिंह परिहार,परसराम मंगलानी, लुकराम वेंताल,डॉ. प्रेमकुमार वर्मा, द्वारिका जायसवाल, शंकर सिंह परिहार, केदार सिंह परिहार,भरतलाल सोनी, जेठूसिंह, कृष्णकुमार तिवारी जैसे सैकड़ो दिग्गजो के प्रति हम आभार व्यक्त करना किया।

जिन्होंने अपनी मेहनत से पार्टी को विराट्ता, भव्यता और दिव्यता देकर पार्टी को उच्च शिखर पर पहुँचाने में अहम भूमिका निभाई। मित्रों, पार्टी हमारे लिए सर्वोपरि होती है। हमेशा हमें मान-सम्मान और गरिमा को बढ़ाते रहना चाहिए क्योंकि हम अपनी पार्टी के नाम से ही अपनी पहचान बनाये है।

इस पहचान को तभी जीवित रख सकते है जब तक पार्टी में हम यह मानकर चले कि पहले हमारी पार्टी है उसके बाद हम है, तभी पार्टी की जड़े हमेशा मजबूत बनी रहेगी। यद्यपि पार्टी में कभी किसी के बीच मतभेद हो सकते है किन्तु पार्टी में कभी मनभेद नहीं होना चाहिए और हमेशा यह भी ध्यान रखना चाहिए कि दूर-दूर से जनमानस में हमारी यह छवि दिखे, भाजपा के कार्यकर्ताओ की अपनी पार्टी की अलग एक साख और पहचान आम जनमानस में स्पष्ट रूप से झलकनी चाहिए और हमेशा अपनी लकीर बढ़ाकर ही राजनीति करे, दूसरे की लकीर मिटाकर राजनीति न करें।

जिस पार्टी का नेता अच्छा हो, नीति बेहतर हो और नीयत साफ हो तथा कार्यकर्ताओं का चाल, चरित्र और चेहरा संस्कारित हो, उस पार्टी का या पार्टी के कार्यकर्ताओं के लिए जनता के दिलो में हमेशा जगह बनी रहती है।उन्होंने भाजपा स्थापना दिवस की शुभकामनाएं दी।

Tags
Back to top button