छत्तीसगढ़

मुंगेली व्यापार मेला: छाया चन्द्राकर के मधुर कंठ से निकलने वाले गीतों ने बांधा समा

विजेता व निर्णायक को मंच से सम्मानित किया गया

मुंगेली: मुंगेली व्यापार मेला की शुरुआत छत्तीसगढ महतारी की वंदना के साथ पारंपरिक लोकगीतों के साथ हुई. सबसे पहले स्व. मिथलेश साहू को नमन किया गया. उसके बाद छत्तीसगढ की लोकप्रिय सुप्रसिद्ध गायिका छाया चन्द्राकर और उनकी टीम ने मनमोहक प्रस्तुति दी.

करमा, भोजली, ददरिया, पंथी, जसगीत, राऊतनाच, जसगीत, विवाह, सरगुजिया के साथ लोकप्रिय श्रृंगारिक गीतों के साथ साथ छत्तीसगढ के रिवाज को बनाये रखने नाटक दिखाया गया. दर्शक देखकर वाह वाह करने से स्वयं को रोक नहीं पाये.

इसके साथ सायं एडिसनल एसपी मुंगेली, तेजराम एसडीओपी मुंगेली, संरक्षकगण हिमांशु मिश्रा, शिवप्रताप सिंह, संजीव गुप्ता उमेश केशरवानी, इंद्राज सिंह, आकाश परिहार के आतिथ्य में दीप प्रज्वलन के साथ शुभारंभ हुआ. तत्पश्चात ‘कबाड़ से जुगाड़ प्रतियोगिता’ के विजेता व निर्णायक को मंच से सम्मानित किया गया.

इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने कहा कि नगर का यह आयोजन मेरे लिए पहला था. इसलिए स्टार्स आफ टूमारो के यूथ टीम के साथ आयोजन को लेकर एक चर्चा बैठक रखा. आज आकर देख रहा हूँ. वास्तव में यह आयोजन नगर के लिए बहुत शानदार है. समयानुसार सुधार कर आयोजन की निरंतरता की बधाई देता हूँ.

कार्यक्रम अध्यक्ष ने कहा कि यह आयोजन मुंगेली वासियों के लिए प्रमुख आयोजनों में से एक है. सांस्कृतिक व स्टालों के लिए व्यवस्था अच्छा है. भीड़ को देखते हुए सीसीटीवी कैमरा की व्यवस्था किया गया. शिवप्रताप सिंह ने कहा कि हमारी शुभकामनाएँ, ये उर्जा बनायें रखें.

Tags
Back to top button