नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारियों ने जारी किया तुगलकी फरमान

निर्देश के बाद सफाई ठेकेदारों द्वारा चालानी कार्रवाई करने का काम शुरु

रायपुर: राजधानी के अलग-अलग जोन कमिश्नर ने सफाई ठेकेदारों को मैसेज जारी कर जुर्माना वसूलने के निर्देश दिया है. निर्देश के बाद सफाई ठेकेदारों ने चालानी कार्रवाई करने का काम शुरु भी कर दिया है.

इस तरह का टारगेट देकर जबरन चालान कटवाना कितना सही है ? आम जनता के पास कोरोना संकट की घड़ी में खाने को लाले पड़ें है, ऐसे समय में तुगलकी फरमान जारी कर टारगेट देना लोगों के पेट पर लात मारना है.

नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा जारी मैसेज में सभी सफाई ठेकेदारों को जुर्माना वसूलने का टारगेट दिया है. नगर निगम के सभी जोन के सफाई ठेकेदारों को यह मैसेज जारी किया गया है. जिसमे कहा गया है कि वार्डों में बिना मास्क के चलने वाले लोगों पर 250 रुपए और सार्वजनिक जगह पर थूकने पर 100 रुपए का जुर्माना वसूला जाए.

स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा जारी मैसेज में ये भी कहा है कि प्रत्येक वार्ड से कम-से-कम 20 लोगों का चालान काटने का टारगेट दिया गया है. यह एक ही दिन नहीं, बल्कि सफाई ठेकेदारों को प्रतिदिन 20 लोगों का चालान काटने को कहा गया है.

राजधानी में कुल 70 वार्ड हैं जिसमे कम से कम 20 व्यक्ति से 250 रूपये का चालान काटना है. यानि हर वार्ड से 5 हजार का टारगेट दिया गया है. सफाई ठेकेदार निर्देशों का पालन करते हुए सड़कों पर जो भी बिना मास्क या थूकता मिल रहा है उसका चालानी कार्रवाई कर रहे हैं.

एक सब्जी व्यापारी ने गमछा लगाया हुआ है. इसके बावजूद उसका चालान काटा गया. किराना व्यापारियों का चालान काटा गया है. वार्ड क्र. 55 मे मास्क नहीं पहनने पर 14 लोगों पर चालानी कार्रवाई कर 700 रुपए राजस्व वसूला गया है.

Tags
Back to top button