मुरली विजय ने कर ली है अभ्यास मैच में शतक ठोककर शानदार वापसी

मैदान पर उतरते ही विजय ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। इस खिलाड़ी ने अपने दमदार शाट्स और टाइमिंग से सभी का दिल जीत लिया।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच छह दिसंबर से एडिलेड में खेला जाएगा। इस मैच से भारतीय टीम ने एक अभ्यास मैच खेला। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन (सीए XI) के खिलाफ इस मैच में भारतीय ओपनर मुरली विजय ने शानदार शतक ठोका।

इस सेंचुरी के साथ ही मुरली विजय ने अपने आलोचकों को करारा जवाब भी दिया। इसी के साथ विजय ने टीम इंडिया में अपनी शानदार वापसी भी की।

विजय ने ठोका शतक

अभ्यास मैच की पहली पारी में मुरली विजय को टीम से बाहर रखा गया था, लेकिन पृथ्वी शॉ के चोटिल होने के बाद दूसरी पारी में मुरली विजय और लोकेश राहुल की जोड़ी ओपनिंग करने उतरी।

मैदान पर उतरते ही विजय ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। इस खिलाड़ी ने अपने दमदार शाट्स और टाइमिंग से सभी का दिल जीत लिया। विजय को देख लोकेश राहुल ने भी रन बनाने शुरू किए और उन्होंने ने भी अर्धशतक जड़ा।

हालांकि 62 रन के निजी स्कोर पर लोकेश राहुल आउट हो गए, लेकिन दूसरे छोर पर विजय डटे रहे और उन्होंने शतक जमाकर ही दम लिया। विजय ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन के खिलाफ शतक जमाकर पहले टेस्ट मैच के लिए अपनी जगह पक्की कर ली।

आउट होने से पहले विजय ने इस मैच में 132 गेंदों का सामना करते हुए 129 रन बनाए। इस पारी में उन्होंने 16 चौकों के साथ-साथ पांच शानदार छक्के भी जड़े।

इस अभ्यास मैच में अपनी क्लास दिखाते हुए विजय ने एक ही ओवर में 26 रन बटोरे। विजय ने जैक कार्डर के एक ओवर में 26 रन बनाते हुए अपना शतक भी पूरा किया। इस ओवर से पहले विजय 74 रन बनाकर खेल रहे थे।

जैक कार्डर की पहली दो गेंदों पर विजय ने दो चौके जड़े। तीसर गेंद पर उन्होंने छक्का जड़ दिया। चौथी गेंद पर दो रन बनाए। पांचवीं गेंद पर विजय ने फिर से छक्का लगाया। इस ओवर की आखिरी गेंद पर विजय ने चौका जड़ते हुए एक ओवर में 26 रन बनाने के साथ ही अपना शतक भी पूरा कर लिया।

मुरली विजय को इंग्लैंड में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच के बाद टीम इंडिया से बाहर कर दिया गया था। लॉर्ड्स में खेले गए उस मैच की दोनों पारियों नें विजय शून्य पर आउट हो गए थे।

डबल पेयर (दोनों पारियों में शून्य पर आउट होना) बनाने के बाद उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी दो टेस्ट मैचों के लिए चुनी गई टीम में जगह नहीं दी गई थी। टीम इंडिया से बाहर होने के बाद कुछ लोगों का मानना था कि अब विजय का करियर खत्म हो गया है, लेकिन इस जुझारु खिलाड़ी ने तो कुछ और ही सोच रखा था।

टीम इंडिया से बाहर होने के बाद विजय ने काउंटी क्रिकेट खेला और वहां पर उन्होंने शानदार खेल दिखाया। विजय ने एसेक्स के लिए काउंटी क्रिकेट खेलते हुए पांच पारियों में तीन अर्धशतक और एक शतक जड़ा था। विजय ने एसेक्स के लिए 56, 100, 85, 80 और 2 रन की पारियां खेली थी।<>

 

Back to top button