जमीन विवाद में 5 साल के भतीजे की हत्या:दंपती ने बाहर खेल रहे बच्चे को बुलाकर जबरदस्ती मिठाई खिलाई, फिर घोंट दिया गला; गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर में जमीन के विवाद में दंपती ने अपने ही 5 साल के भतीजे की हत्या कर दी। घर के बाहर खेल रहे भतीजे को घर बुलाया और फिर जबरदस्ती मिठाई खिलाकर गला घोंट दिया।

ब्युरो चीफ : विपुल मिश्रा

संवाददाता : राधिका पाखी

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर में जमीन के विवाद में दंपती ने अपने ही 5 साल के भतीजे की हत्या कर दी। घर के बाहर खेल रहे भतीजे को घर बुलाया और फिर जबरदस्ती मिठाई खिलाकर गला घोंट दिया। इसके बाद शव को खेत के पास झाड़ियों में फेंक आए। पुलिस ने इस मामले में दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी दंपती ने शासकीय जमीन पर फसल लगवाई थी, जिसे बच्चे के पिता ने किसी अन्य से कटवा दिया था।

जानकारी के मुताबिक, प्रेम नगर क्षेत्र के ग्राम अन्नापूर्णा निवासी बाबू सिंह का 5 साल का बेटा दिलराम 8 अक्टूबर की शाम पड़ोस में रहने वाले बच्चे के साथ खेल रहा था। काफी शाम होने के बाद भी जब दिलराम घर नहीं लौटा तो परिजन उसे तलाश करने के लिए निकले, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। लोगों से भी पूछा, पर कोई जानकारी नहीं मिल सकी। इस पर परिजन अगले दिन दोपहर में थाने पहुंचे और बच्चे की गुमशुदगी दर्ज करा दी।

मिठाई लेने भेजा, लौटा तो अगवा कर घर ले गए

जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि बाबू सिंह के चचेरे भाई घुर सिंह की पत्नी संतोषी ने दिलराम को रुपए देकर सामान लेने भेजा था। संदेह के आधार पर पुलिस ने दंपती को हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि बच्चे को खेलते देख उन्होंने उसे रुपए देकर किराना सामान लेने भेजा। वापस आने पर फिर पैसे दिए और मिठाई लाने के लिए कहा। जब मिठाई लेकर लौटा तो उसे अगवा कर घर के अंदर ले गए।

मुंह में मिठाई ठूंसी और फिर गला दबा कर मार दिया

आरोपियों ने बच्चे को जबरदस्ती मिठाई खिलाई। उसके मुंह में बुरी तरह से मिठाई ठूंसने के बाद दोनों ने मिलकर बच्चे का गला दबा कर हत्या कर दी। इसके बाद देर रात को मृतक दिलराम के शव को दोनों ने मिलकर खेत के जंगल की झाड़ियों के बीच छिपा दिया। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने बच्चे का शव और चप्पल खेत के पास झाड़ियों से बरामद कर लिया। इसके बाद पुलिस ने घुर सिंह और संतोषी को गिरफ्तार कर लिया।

पैतृक जमीन बंटवारे के बाद चल रहा था

विवाद पूछताछ में आरोपी दंपती ने पुलिस को बताया कि उनका बाबू सिंह के साथ पैतृक जमीन के बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा है। गांव की शासकीय जमीन में वह 3 सालों से धान की फसल लगा रहा है। इस वर्ष लगाई धान की फसल को गांव के एक व्यक्ति ने काट लिया। जिसका सहयोग बाबू सिंह ने किया था। 8 नवंबर को जब दिलराम घर के पास खेल रहा था। तभी धान फसल की कटाई व जमीन विवाद की रंजिश को लेकर उसकी हत्या की साजिश रची।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button