चिटफंड के पैसे को लेकर नागपुर में हुई थी पत्रकार की मां, बच्ची की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि पत्रकार की मां उषा कांबले (50) और उनकी एक वर्षीय बेटी ऋषा की शनिवार शाम में हत्या कर दी गयी थी और उनके शवों को बोरे में बंद कर यहां के डिघोरी में भादुरा स्थित एक नाले में फेंक दिया गया था.

<strong>नागपुर:</strong> नागपुर पुलिस ने दावा किया कि उसने एक पत्रकार की मां और उसकी मासूम बेटी की हत्या के 12 घंटे बाद इस वारदात की गुत्थी सुलझा ली है.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

पुलिस ने बताया कि पत्रकार की मां उषा कांबले (50) और उनकी एक वर्षीय बेटी ऋषा की शनिवार शाम में हत्या कर दी गयी थी और उनके शवों को बोरे में बंद कर यहां के डिघोरी में भादुरा स्थित एक नाले में फेंक दिया गया था.

संयुक्त पुलिस आयुक्त (जेसीपी) शिवाजी बोडखे ने बताया कि आरोपी गणेश रामबरन शाहू (26) यहां के पवनपुत्र नगर इलाके में रहता है. पीड़ित और आरोपी शाहू के बीच चिटफंड के पैसे को लेकर उसके घर पर झगड़ा हुआ था. बोडखे ने बताया कि कहा सुनी के बीच महिला सीढ़ियों से गिर पड़ी, जिसके बाद शाहू ने उनका गला रेत दिया.

उन्होंने बताया कि घटना के वक्त बच्ची महिला के साथ ही थी और बच्ची को रोता देख शाहू ने उसकी भी हत्या कर दी. बोडखे ने बताया, बाद में उसने शवों को बोरे में बंद कर उन्हें नाले में फेंक दिया.’’ अधिकारी ने बताया कि मामले में जांच जारी है.

Back to top button