राज्य

कांग्रेस के मुस्लिम विधायक ने पेश की मिसाल, संस्कृत में ली शपथ

चेतन आनंद पहली बार विधायक बने हैं।

पटना: विधानसभा में शपथ के दौरान AIMIM के विधायक अख्तरुल इमान ने हिंदुस्तान शब्द पर आपत्ति जताकर जो बवाल मचाया, उसके बाद कांग्रेस के एक मुस्लिम विधायक ने मिसाल पेश की।

कदमा से कांग्रेस के विधायक शकील अहमद ने सदन की सदस्यता की शपथ संस्कृत भाषा में ली। शकील अहमद ने संस्कृत में शपथ लेकर सबको चौंका दिया। सदन के बाहर निकले तो न्यूज 24 से खास बातचीत में कहा कि भारत विविधताओं का देश है और यहां सभी जुबान बोली जाती हैं। संस्कृत भी भारत की भाषा है और मैंने इसीलिए संस्कृत में शपथ ली।

चेतन आनंद बने बिहार विधानसभा के सबसे युवा विधायक

चेतन आनंद पहली बार विधायक बने हैं। चेतन की उम्र महज 29 साल है। चेतन आनंद के पिता आनन्द मोहन 33 की उम्र में पहली बार विधायक बने थे। चेतन के पिता आनंद मोहन और मां लवली आनंद दोनों बिहार के राजनीति से जुड़े हैं और सांसद रह चुके हैं। इस बार के चुनाव में लवली आनंद और चेतन दोनों मैदान में थे। दोनों को राजद ने टिकट दिया था। लवली आनंद भले ही सहरसा से हार गयी हों, लेकिन चेतन ने राजद उम्मीदवार के तौर पर शिवहर से जीत हासिल की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button