राष्ट्रीय

मसूरी का ये बंगला, जानिए क्या है सचिन से कनेक्शन

सचिन तेंदुलकर के करीबी दोस्त संजय नारंग का मसूरी स्थित बंगला लंबी कानूनी लड़ाई के बाद आखिरकार ढहाया जा रहा है.  मंगलवार को नैनीताल हाईकोर्ट की कैंट बोर्ड के आदेश के बाद प्रशासन ने यह कार्रवाई की है.  बताया जाता है कि सचिन जब भी अपने परिवार के साथ मसूरी आते थे तो वो इसी बंगले में रुकते थे.

तोड़े जा रहे बंगले को डहेलिया बैंक के नाम से जाना जाता है. प्रशासन ने कार्रवाई को शांतिपूर्ण ढंग से निपटाने के लिए सुरक्षा के इंतजाम किए हैं.

बताया जा रहा है कि संजय नारंग ने इस बंगले के पुननिर्माण के लिए कैंट के अधिकारियों से परमिशन नहीं ली थी

जिसके बाद कोर्ट ने निर्माण को अवैध बताते हुए तोड़ने का आदेश दिया था.

कितने इलाके में फैला है ये बंगला…

28 हजार वर्गमीटर क्षेत्र में फैला है. बता दें कि नैनीताल हाईकोर्ट ने अवैध निर्माण के चलते इसे तोड़ने का आदेश दिया था. हाईकोर्ट के इस फैसले के खिलाफ कारोबारी संजय नारंग ने सुप्रीम कोर्ट में विशेष सुनवाई याचिका दायर की थी. जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया था.

यही नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने डहेलिया बैंक में किए गए अवैध निर्माण को तोड़ने के लिए 12 दिन का समय दिया था, लेकिन नारंग ने अवैध हिस्सा नहीं तुड़वाया.

सचिन ने रक्षा मंत्री से की थी बात

डहेलिया बंगला का कंस्ट्रक्शन रक्षा मंत्रालय के आईटीएम विभाग की जमीन के पचास मीटर के अंदर आता है. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 2016 में सचिन तेंदुलकर ने तत्कालीन रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर से डहेलिया बैंक मामले पर भी बात की थी.

जिसके कारण उनका नाम इस प्रॉपर्टी से जोड़ा गया, लेकिन बाद में सचिन ने इन आरोपों का खंडन भी किया था.

Summary
Review Date
Reviewed Item
सचिन तेंदुलकर 
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *