हर मां की अभिलाषा होती है कि यदि उनके घर में बेटी पैदा हो तो रानी दुर्गावती जैसी हो : महापौर

रायपुर : नगर निगम रायपुर के संस्कृति विभाग ने वीरांगना रानी दुर्गावती को बलिदान दिवस पर केनाल लिंकिंग रोड में स्थापित प्रतिमा स्थल के समक्ष आयोजन रखकर ससम्मान नमन किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से प्रदेश के वन मंत्री महेश गागडा, राज्यसभा सदस्य रामविचार नेताम, रायपुर ग्रामीण विधायक सत्यनारायण शर्मा, सर्व आदिवासी समाज अध्यक्ष जयलक्ष्मी ठाकुर, आदिवासी समाज के बीकेएस नेताम, बीएस धनंजय, कमलादेवी नेताम, सहित बडी संख्या में महिलाओं, युवकों ने वीरांगना रानी दुर्गावती को बलिदान दिवस पर नमन करते हुए श्रद्धांजली अर्पित की। इस अवसर पर महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि रानी दुर्गावती का अवतरण दुर्गाष्टमी के पावन दिवस पर हुआ था। उनकी जीवनी को पढते ही हर व्यक्ति के भीतर देश का कार्य करने का पराक्रम जागृत हो जाता है। वीरांगना रानी दुर्गावती आदिवासी समाज समस्त समाजों के लिये पुज्यनीय रही है। रानी दुर्गावती एक व्यक्ति न होकर विचार है। जिसने भी उनकी जीवनी पढी है हर मां की यही अभिलाषा होती है कि यदि उनके घर में बेटी पैदा हो तो रानी दुर्गावती जैसी हो। महापौर ने कहा कि 6 माह पूर्व नगर निगम में सामान्य सभा की बैठक में केनाल लिंकिंग रोड के प्रतिमा स्थल को अधिसूचित करने की कार्यवाही की है। यहां प्रारंभिक तौर पर सौंदर्यीकरण कार्य नगर निगम ने साढे तीन लाख रू. में प्रारंभ करवाया है। सौंदर्यीकरण करके नगर निगम वीरांगना रानी दुर्गावती के जीवन चरित्र पर आधारित संक्षिप्त शिलालेख प्रतिमा स्थल पर लगायेगा ताकि आमजन अवगत हो सके एवं उनकी वीरता से भावी पीढी देशभक्ति की भावना अपने भीतर जागृत करने प्रेरणा प्राप्त कर सके | वहीँ प्रदेश के वन मंत्री महेश गागडा ने कहा कि वीरांगना रानी दुर्गावती का प्रतिमा स्थल मरीन ड्राइव के पास केनाल लिंकिंग रोड में होने पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपनी सहमति दी और सुन्दर स्थल पर प्रतिमा स्थापित हुई। बलिदान दिवस के आयोजन में बीजापुर क्षेत्र के जनपद सदस्य तक इसमें शामिल होने आये है। उन्होने कहा कि भावी पीढी को स्वास्थ्य वर्धक सुन्दर वातावरण देने एवं प्रकृति के संरक्षण हेतु 9 अगस्त 2017 के दिन से प्रतिमा स्थल पर पूरे छत्तीसगढ राज्य के समस्त गढों की पहचान माने जाने वाले पौधो का सुव्यवस्थित रोपण का कार्य अभियान चलाकर वन विभाग के माध्यम से यहां प्रारंभ करवायेंगे।

Back to top button