अतिक्रमणकारियों पर नगरपालिका ने की तोडफ़ोड़ की कार्यवाही….

यातायात व्यवस्था सुधारने कलेक्टर के निर्देश पर शुरू हुई कार्यवाही....

– मनीष शर्मा

मुंगेली: शहर भीतर बेतरतीब, अतिक्रमणकारियों से निपटने पड़ावचौक से दाउपारा तक नगरपालिका, राजस्व अमला व पुलिस की संयुक्त टीम का अभियान निश्चित ही सराहनीय है मगर बिना किसी नोटिस के ताबड़तोड़ तोड़फोड़ होने से आमजनमानस में खासी नाराजगी बनी।

बहरहाल अब इन मार्गो में अब यातायात समस्या से छुटकारा मिलने की पूरी उम्मीद है मगर शहर भीतर ही बड़े बड़े नालियों के ऊपर अतिक्रमण करने से नालियों की सफाई नही होने के चलते ये बदबूदार संक्रामक बीमारियों को न्योता लंबे समय से दे रही है जब ऐसे माहौल से पीने के पानी में दुष्प्रभाव की स्थिति निर्मित होती है तब आनन फानन में नालियों को तोड़ वाटरफ़ोर्स से साफ किया जाता है मगर इस भयंकर समस्या का स्थायी समाधान नही होने व पुनः नालियो ऊपर अतिक्रमण करने के कारण कुछ दिनों में ही नालियो की गन्दगीनुमा माहौल विकराल रूप ले लेती है क्या प्रशासन को ऐसे अतिक्रमणकारियों पर ठोस कार्यवाही नही की जानी चाहिए???

बता दें अभी जो हाल में मुख्य सड़क मार्ग से अतिक्रमण हटाया गया ये अतिक्रमण दुकानदार अपने दायरे से बाहर टिनशेड निर्माण कर लिए थे जिससे आवागमन बाधित होते रहता था मामले को गंभीरता से लेकर जिला प्रशासन ने नगरपालिका को अतिक्रमण हटाने निर्देशित किया था 17 मई को नगरपालिका अधिकारियों ने अतिक्रमण हटाने के लिए लाउडस्पीकर से अपील की।

20 मई को अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई।इसमें भी दुकानदारों द्वारा नगरपालिका पर सूचना के अभाव में कार्यवाही करने का आरोप लगाया।इस कार्यवाही में भी बड़े रसूखदार अतिक्रमणकारियों पर नगरपालिका के मेहरबान होने का आरोप भी लगा।

इस संबंध में मुख्य नगरपालिका अधिकारी राजेश गुप्ता ने बताया कि बदहाल यातायात को व्यवस्थित करने अतिक्रमणकारियों को नोटिस व लाउडस्पीकर से सूचना दी गयी बावजूद ना हटाने पर कार्यवाही की गई अतिक्रमण हटाने का सिलसिला लगातार जारी रहेगा नालियों के बदहाली के लिए भी अतिक्रमणकारियों पर कार्यवाही की जाएगी।

Back to top button