कलेक्टर के निर्देश पर नायब तहसीलदार ने किया 50 बंडल बोरा जब्त, बस संचालकों में मची

रामानुजगंज (पृथ्वीलाल केशरी )।

कलेक्टर हीरालाल नायक ने रात्रि 8.30 बजे के लगभग बलरामपुर से रामानुजगंज की ओर जा रहे राजहंस ट्रेवल्स के ऊपर में बारदाना से भरे बंडलों को देखकर संदेहास्पद परिवहन की आशंका पर रामानुजगंज नायब तहसीलदार पंचराम सलामे को वाहन को रुकवाकर जांच करने के निर्देश दिए।

नायब तहसीलदार पंचराम सलामे नहीं तत्काल अपने दल बल के साथ अंतर राज्य जांचना का पर पहुंच कर जांच किया गया। जांच के दौरान यात्री वाहन में 50 बंडल जुट के बारदाने जिसमे विभिन्न संस्था/फर्मों के मिश्रित रूप से बारदाना पाया गया,इसमें छत्तीसगढ़ सिविल सप्लाइज कारपोरेशन के बारदाने भी पाए गए। बस के चालक परिचालक के द्वारा मौके पर कोई भी दस्तावेज बारदाने के परिवहन के संबंध में पेश नही किया गया। जबकि उनके द्वारा बारदाना को हरिहरगंज झारखंड-बिहार के अशोक चौधरी के यहां अम्बिकापुर के दीपक साहू द्वारा भेजना बताया गया।

कोई दस्तावेज पेश न करने पर बारदाना को खाद्य निरीक्षक द्वारा जप्त कर मंडी कर्मचारियों को सुपुर्द किया गया। मौके पर स्वयं कलेक्टर हीरालाल नायक तहसीलदार शशिशेखर मिश्रा व नायब तहसीलदार अमित केरकेट्टा के साथ उपस्थित होकर प्रकरण की जांच करते हुए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत बस के ऊपर कार्यवाही कि गई। तत्पश्चात कलेक्टर हीरालाल नायक ने छत्तीसगढ़-झारखण्ड सीमा पर स्थित अंतराज्यीय कन्हर बेरियर रामानुजगंज में बाहर राज्यों से छत्तीसगढ़ राज्य में आ रहे धान व चावल के परिवहन से संबंधित अभिलेखों की गहनता से जांच पड़ताल कि गई।

उक्त कार्यवाही से राजहंस,नीलम,शमीम, शिवम ट्रेवल्स संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है। कार्रवाई के दौरान राजस्व अमले के साथ साथ दोनों तहसीलदार व पटवारीगण,मंडी,खाद्य विभाग के स्टाफ भी मौजूद थे। उक्त कार्रवाई रात्रि 9:00 बजे से लेकर 3:00 बजे रात तक जारी रहा।

1
Back to top button