नजमा हेपतुल्ला ने तीन तलाक पर मोदी के रुख को बताया ऐतिहासिक

नजमा हेपतुल्ला ने तीन तलाक पर मोदी के रुख को बताया ऐतिहासिक


नजमा हेपतुल्ला ने तीन तलाक पर मोदी के रुख को बताया ऐतिहासिक

लोकसभा में ‘मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक’ पारित होने पर खुशी जाहिर करते हुए मणिपुर की राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला ने कहा कि अगर यह विधेयक कानून बन जाता है तो समूचे देश में मुस्लिम महिलाओं की पीड़ा का अंत हो जाएगा.

उन्होंने राज्यसभा के सदस्यों से अपील की कि वे सर्वसम्मति से इस विधेयक को पारित करें. उन्होंने कहा कि इस विधेयक को आम सहमति से पारित करने की प्रधानमंत्री मोदी की अपील का वह समर्थन करती हैं.

नजमा ने कहा, ‘‘यह एक सकारात्मक रुख है और तीन तलाक एक गलत प्रथा है तथा अधिकतर मुस्लिम देशों ने इसे खत्म कर दिया है.’’ नजमा ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने एक बड़ा ऐतिहासिक कदम उठाया है और मुस्लिम महिलाएं इससे बेहद खुश होंगी क्योंकि यह धर्म के बारे में नहीं है बल्कि उस गलत प्रथा के बारे में है जो गैर इस्लामिक है तथा इस्लाम पुरूष एवं महिला के बीच भेदभाव नहीं करता है.

गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने तीन तलाक को दंडनीय अपराध बताने वाले ‘मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक’ को आम सहमति से पारित करने का अनुरोध किया था. उच्चतम न्यायालय ने अगस्त में ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए कहा था कि ‘तीन तलाक’ असंवैधानिक है और यह मुस्लिम महिलाओं के मौलिक अधिकारों का हनन करता है.

advt
Back to top button