फाफामार, मेटेपार और बादराटोला में नलजल योजना स्वीकृत, छतर सिंह को मिला ट्रैक्टर

लोक सुरज अभियान

राजनंदगाँव : आयोजित समाधान शिविर में ग्राम फाफामार, मेटेपार और बादराटोला में नलजल योजनाएँ स्वीकृत की गई हैं।, छुरिया विकासखंड के ग्राम गैंदाटोला के ग्रामीणों की माँग पर कलेक्टर भीम सिंह ने निर्णय लिया और कहा की लोक सुरज अभियान में सबसे ज्यादा प्राथमिकता शुद्ध पेयजल को दी जा रही है। ग्रामीणों को हैंडपंप और राइजर पाइप उपलब्ध कराये गए हैं।

कलेक्टर सिंह ने इस मौके पर बताया कि छुरिया विकासखंड में किसानों को सूखा राहत की राशि 24 करोड़ रुपए शासन की ओर से दी गई है। इसमें से 22 करोड़ 95 लाख रुपए बैंकों को उपलब्ध कराये जा चुके हैं। बैंक अब तक 37500 किसानों को 21 करोड़ रुपए की राशि वितरित कर चुके हैं। कुछ किसानों के खाता नंबर सही नहीं होने के कारण तथा कुछ अन्य तकनीकी कमियाँ होने के कारण इन्हें दोबारा बैंकों को प्रेषित किया गया है और अगले दस दिनों में इनका भी भुगतान कर दिया जाएगा। गाँव में नहीं होने के कारण कुछ किसानों के खाते नहीं मिल पाए हैं। इन किसानों तक पहुँचने की कोशिश की जा रही है।

उन्होंने कहा कि सूखा राहत राशि के साथ फसल बीमा की राशि से किसानों को काफी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस बार किसानों ने आधुनिक खेती के लिए लोक सुराज अभियान में सौर सुजला की माँग की है। आधुनिक कृषि उपकरणों की मांग की है जिसमें कृषि विभाग ने तेजी से कार्रवाई करते हुए किसानों को यह साधन उपलब्ध कराये हैं। यह किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में बड़ा कदम है। विकसित कृषि उपकरणों का लाभ केवल किसान को ही नहीं, अपितु निकटस्थ अन्य किसान भाइयों को भी होता है।

इस मौके पर कलेक्टर से किसानों ने सौर सुजला की माँग की। उन्होंने मौके पर ही आवेदन लेकर अग्रिम कार्रवाई के निर्देश क्रेडा विभाग के अधिकारियों को दिए। शिविर में 116 राशन कार्ड का वितरण किया गया। राष्ट्रीय परिवार सहायता के तीन चेक भी वितरित किए गए। साथ ही उज्ज्वला योजना के सिलेंडर भी वितरित किए गए। जिन बुजुर्ग महिलाओं को उज्ज्वला योजना के सिलेंडर दिए गए।

उन्होंने अतिथियों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि बरसों से हमने धुँआ झेला, आज पहली बार सिलेंडर में खाना पकाएंगे। इसके लिए बहुत धन्यवाद। शिविर में आनलाइन श्रम विभाग के पंजीयन की व्यवस्था भी थी। यहाँ मौके पर ही पंजीयन कर श्रम विभाग के हितग्राहियों को कार्ड वितरित किए गए। इसके साथ ही समाज कल्याण विभाग के हितग्राहियों को भी मोटराइज्ड ट्राइसिकल, ट्राइसिकल, श्रवण यंत्र एवं ट्राइसिकल का वितरण किया गया।

लोक सुराज में हुआ सपना पूरा, अभी ट्रैक्टर चलाना सीख भी नहीं पाए थे कि घर आ गया ट्रैक्टर –

लोक सुराज अभियान के दौरान गैंदाटोला क्लस्टर में किसानों ने ट्रैक्टर, थ्रैसर तथा रोटावेयर की माँग की थी। महीने भर के भीतर ही कार्रवाई पूरी कर ली गई है और आज शिविर के मौके पर ही इन्हें हितग्राहियों को उपलब्ध करा दिया गया। ग्राम केशोखैरी के छतर सिंह ने ट्रैक्टर की माँग की थी, उन्हें इसके लिए एक लाख 25 हजार रुपए का अनुदान कृषि विभाग की ओर से दिया गया।

कलेक्टर भीम सिंह ने छतर सिंह से पूछा, कैसा महसूस कर रहे हैं, छतर सिंह ने बताया कि इतनी जल्दी ट्रैक्टर मिल जाएगा, सोचा नहीं था, इसलिए अभी चलाना भी नहीं सीख पाया हूँ। अब जल्द ही चलाना सीखूँगा। उन्होंने कहा कि लोक सुराज अभियान में इतनी जल्दी मेरे आवेदन पर निर्णय हो जाएगा, यह मैंने सोचा नहीं था। इससे विकसित खेती करने के लिए मैं आगे बढ़ पाऊँगा। इसी प्रकार पठानदोडगी के भरत कंवर को थ्रेसर दिया गया। थ्रेसर में कंवर को चालीस हजार रुपए का अनुदान दिया गया।

रामतराई के दूलचंद को रोटावेटर दिया गया। इसमें दूलचंद को 53 हजार रुपए का अनुदान दिया गया। इसके अलावा दतरेंगा के गिरधारी कंवर को भी ट्रैक्टर प्रदाय किया गया। इस मौके पर उप संचालक कृषि अश्विनी बंजारा ने कलेक्टर भीम सिंह को बताया कि इन उपकरणों को किसान अपने खेतों में इस्तेमाल तो करेंगे ही, इसे किराये पर अन्य किसानों को भी देंगे। इससे पूरे क्षेत्र में विकसित खेती के लिए जमीन तैयार होगी।

इस मौके पर 5 डीजल पंप तथा 5 स्प्रिंकलर पंप भी प्रदाय किए गए। इस मौके पर जिला केंद्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष सचिन बघेल, पूर्व विधायक राजिंदरपाल सिंह भाटिया, जनपद अध्यक्ष लता मंडावी, जनपद उपाध्यक्ष रविन्द्र वैष्णव, जिला पंचायत सदस्य हिरेन्द्र साहू, डीएफओ मोहम्मद शाहिद, अपर कलेक्टर ओंकार यदु, एसडीएम अनिल बाजपेयी, सहायक कलेक्टर डॉ. रवि मित्तल एवं आत्माराम चंद्रवंशी तथा अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

advt
Back to top button