शौचालय महिलाओं के लिए ‘इज्जतघर’, PM मोदी बोले- जरूर बनवाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी दौरे पर शहंशाहपुर में शौचालय की नींव रख स्वच्छता अभियान की शुरुआत की. पीएम ने यहां एक जमसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हम में से कोई गंदगी में नहीं रहना चाहता लेकिन फिर भी स्वच्छता हमारी जिम्मेदारी है यह स्वभाव हमारे देश में पनपा नहीं है. उन्होंने कहा कि गंदगी हम करते हैं और स्वच्छता कोई और करेगा, यह प्रवृत्ति हमारे समाज से गई नहीं है.

जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि बीमारियों के मूल में गंदगी ही होती है. यूनीसेफ का उदाहरण देते हुए कहा कि उनकी रिपोर्ट से उजागर हुआ है, अगर घर में शौचालय है तो सालाना बीमारियों के इलाज में खर्च होने वाले 50 हजार रुपए की बचत की जा सकती है.

पीएम मोदी ने कहा कि यहां मुझे शौचालय की ईट रखने का सौभाग्य मिला और स्वच्छता मेरे लिए एक पूजा है. उन्होंने कहा कि स्वच्छता देश में गरीबों को बीमारी और इलाज के आर्थिक बोझ से मुक्त कराएगी. पीएम ने कहा कि गांव में शौचालय की नींव रखते हुए वहां शौचालय के लिए ‘इज्जतघर’ शब्द का इस्तेमाल किया गया है. उन्होंने कहा कि शौचालय सचमुच में हमारी बहन-बेटियों के लिए यह इज्जतघर है. जहां इज्जतघर है वहां गांव और घर की भी इज्जत है.

पीएम ने कहा कि शौचालय को इज्जतघर का नाम देने के लिए यूपी सरकार को बधाई देता हूं क्योंकि उन्होंने शौचालय की प्रतिष्ठा बढ़ाने का काम किया है.

पीएम ने कहा कि आने वाले दिनों में जिसे भी अपनी इज्जत की चिंता है वह अपने गांव-घर में इज्जतघर का निर्माण जरूर कराएगा और उसका उपयोग करेगा.

Back to top button