विदेश जाने से रोके गए जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी

मुंबई : गंभीर वित्तीय संकट से जूझ रही और अस्थायी रूप से बंद जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल को विदेश जाने की इजाजत नहीं दी गई। सूत्रों ने बताया कि मुंबई एयरपोर्ट पर गोयल दंपती को आव्रजन अधिकारियों ने शनिवार को दुबई जाने वाले विमान में सवार नहीं होने दिया। वे दुबई की विमानन कंपनी एमिरेट्स की उड़ान संख्या ईके-507 से दुबई जाने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे। यह विमान दिन में तीन बजकर पैंतीस मिनट पर दुबई के लिए उड़ान भरने वाला था।

सूत्रों ने बताया कि अधिकारियों ने विमान में अनिता गोयल के नाम से लोड हो चुके सामान को भी वापस निकाल लिया। हालांकि खबर लिखे जाने तक नरेश गोयल से इस पर प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं हो सका, जबकि एमिरेट्स की प्रतिक्रिया का इंतजार था।

पिछले महीने जेट एयरवेज ऑफिसर्स एंड स्टाॅॅफ एसोसिएशन की प्रेसिडेंट किरण पावस्कर ने मुंबई पुलिस कमिश्नर से नरेश गोयल और जेट एयरवेज प्रबंधन के शीर्ष अधिकारियों का पासपोर्ट रद करने का आग्रह किया था।

पावस्कर ने कमिश्नर को लिखे पत्र में कहा कि जेट एयरवेज ने कई महीनों से कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया है। हालांकि कर्ज पुनर्गठन योजना के तहत गोयल दंपती ने जेट एयरवेज के निदेशक बोर्ड से इस्तीफा दे दिया था।

नरेश गोयल ने इसके साथ ही कंपनी के चेयरमैन का भी पद छोड़ दिया था। पिछले दिनों ब्रिटेन स्थित हिंदुजा ग्रुप ने नरेश गोयल और जेट एयरवेज की शेयरधारक एतिहाद एयरवेज के समर्थन से जेट एयरवेज के लिए बोली लगाने का फैसला किया था। हिंदुजा ग्रुप ने अगले सप्ताह कंपनी के लिए औपचारिक बोली लगाने की बात कही है।

Back to top button