छत्तीसगढ़

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान : पल्स पोलियो का द्वितीय चरण 11 मार्च को

अम्बिकापुर : कलेक्टर किरण कौशल के मार्गदर्शन में जिले के 0-5 वर्ष आयु समूह के 1 लाख 25 हजार 355 बच्चों को राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के तहत द्वितीय चरण में 11 मार्च को पल्स पोलिया ड्राप्स पिलाने हेतु व्यापक तैयारी की गई है। पल्स पोलियो अभियान के सुचारू संचालन हेतु 798 बूथों को 30 जोन में बांटा गया है। पल्स पोलियो अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए कलेक्टर किरण कौशल की अध्यक्षता में आज यहां कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति की बैठक संपन्न हुई।

कलेक्टर किरण कौशल ने कहा कि 0-5 वर्ष आयु समूह के सभी बच्चांे को पल्स पोलियो ड्राप पीने का अधिकार है। उनके अधिकार को पूरी करने के लिए घरों का चिन्हांकन करने के लिए व्यापक सर्वे कराएं तथा उनके माता-पिता को पोलियो ड्राप्स के बारे में विस्तार से बताएं। उन्होंने कहा कि सरगुजा जिला पोलियो मुक्त लक्ष्य का प्राप्त कर चुका है, किन्तु इस स्थिति को बनाए रखने के लिए नियमित टिकाकरण में शत्-प्रतिशत उपलब्धि बनाए रखना एवं एक्यूट फ्लेसिड पैरालेसिस के केसस के प्रकरणों का समय पर जांच किया जाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण बूथ का नक्शा एवं रूट चार्ट के अनुसार घर-घर टीकाकरण की योजना करने में हाई रिक्श एवं कम कव्हरेज वाले पैकेट्स को नक्शे में विशेष ध्यान रखा जाए, ताकि कौन सा बच्चा टीका के बीना छूटा है यह बता चल सके। बसाटह में जिम्मेदार व्यक्तियों, लिंक वर्करों को जिम्मेदारी सौंपी जाए कि वे अपने एरिया के 0-5 वर्ष के बच्चों की संख्या सुनिश्चित करें।

अभियान के जिला प्रभारी अधिकारी को डीप फ्रीजर्स वैक्सिन तथा आईस पैक की समुचित व्यवस्था समय से पहले पूरी तैयारी करने तथा वितरित किये जाने वाले वैक्सीन के संबंध में विस्तृत जानकारी टीकाकरण दलों को देने के निर्देश दिये। उन्होंने टीकाकरण सत्रों के दौरान वैक्सीन वितरित करते समय निर्माता संस्था का नाम, बैच नम्बर, अवसान तिथि तथा वैक्सीन वायल मॉनीटर की दशा का अवलोकन हर स्तर पर करने और वैक्सीन का उपयोग करने के पूर्व हर वैक्सीनेटर वायल का निरीक्षण आवश्यक रूप से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पल्स पोलियो अभियान के दौरान दायित्वों के निर्वहन में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने कहा कि अभियान के व्यापक प्रचार-प्रसार करें। इसके लिए वाल राईटिंग, नारा लेखन, पम्पलेट तथा मुनादी कराएं। इसके साथ ही स्कूली बच्चों के द्वारा जनजागरूकता रैली का आयोजन भी कराएं। उन्होंने कहा कि स्कूलों के सूचना पटल में भी पल्स पोलियो अभियान की तिथि लिखवाएं, ताकि आने-जाने वालों को अभियान की तिथि के बारे में पता चल सके। उन्होंने सरपंचों , सचिवों तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बूथ में सहयोग करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने पल्स पोलियो अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए सबकी सहभागिता को जरूरी बताते हुए जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों तथा व्यापारिक प्रतिष्ठानों को सहयोग की अपील की है।

मुख्य चिकित्या एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. पाण्डेय ने बताया कि राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के द्वितीय चक्र के प्रथम दिवस 11 मार्च को टीकाकरण पोलियो बूथ पर तथा 12 एवं 13 मार्च को घर-घर जाकर निर्धारित आयु समूह के बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि वैक्सीन का भण्डार जिले एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में आई.एल.आर. एवं ड्रीप फिजर में किया जाएगा। टीकाकरण केन्द्रों का निर्धारण मतदान केन्द्रों में बस स्टैण्ड, रेडियो स्टेशन एवं नाकों पर किया जाएगा। इसके साथ ही चलित बूथ, ईट भट्ठा, लघु उद्योग, छोटी फैक्ट्री तथा मलीन बस्तियों में कार्य करेंगे। उन्होंने बताया कि इस कार्य की गुणवŸाा बढ़ाने के उद्देश्य से 5-6 बूथों पर या टीमों के उपर एक सुपरवाइजर समस्याओं के तत्काल निराकरण हेतु नियुक्त किए जाएंगे। डॉ. पाण्डेय ने बताया कि लोगों में अभियान के प्रति जागरूकता बढ़ाने हेतु 10 मार्च 2018 सुबह 8 बजे रैली का आयोजन किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि वाहन की व्यवस्था, नोडल अधिकारी की नियुक्ति, वैक्सीन की व्यवस्था, शीत श्रृखला वैक्सीन की उपलब्धता, टीकाकरण दलों का गठन, टीकाकरण केन्द्रों पर वैक्सीन पहुंचाने तथा जिला कंट्रोल रूम एवं सुपरविजन की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले में 33 आई.एल.आर. एवं 36 ड्रीप फ्रीजर स्थापित किया गया हैै। उन्होंने बताया कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 1 लाख 47 हजार डोज वैक्सीन की आवश्यकता होगी।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. पाण्डेय, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. सुशील एक्का, डॉ. राजेश भजगावली, डॉ. एस.पी. डहरिया, डॉ. पी.के. सिन्हा, डी.पी.एम. डॉ. अनिता पैकरा, अस्पताल सलाहकार प्रियंका कुरील सहित सभी बीएमओ एवं अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *