छत्तीसगढ़

गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय में स्थापित राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ समाप्त

शर्तों का पालन नहीं करने और दो साल से हिसाब नहीं देने पर कार्यवाही

रायपुर: शर्तों का पालन नहीं करने और दो साल से हिसाब नहीं देने के कारण राज्य सरकार ने गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय में स्थापित राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ समाप्त कर दिया है.

राज्य एनएसएस अधिकारी डॉ. समरेंद्र सिंह की ओर से जारी आदेश में गुरू घासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ द्वारा शर्तों के अनुपालन नहीं किये जाने और बार-बार सूचित किये जाने के बाद भी उपयोगिता प्रमाण पत्र राज्य प्रकोष्ठ को आज तक उपलब्ध नहीं कराए जाने का हवाला दिया है.

गुरू घासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय के एनएसएस प्रकोष्ठ के बंद होने की स्थिति में वर्तमान सत्र में आबंटित इकाइयां वर्ष 2017 में प्रकोष्ठ स्थापना के पूर्व के समान ही अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय, बिलासपुर के वित्तीय एवं संचालन नियंत्रण में संचालित होंगी. वहीं रासेयो छात्र-छात्राओं को असुविधा न हो. इसके लिए रासेयो प्रमाण पत्र गुरू घासीदास विश्वविद्यालय बिलासपुर के नाम से ही प्रदान किए जाएंगे.

इस संबंध में गुरू घासीदास विश्वविद्यालय की पीआरओ प्रतिभा मिश्रा ने चर्चा की. उन्होंने इस संबंध में विश्वविद्यालय को सूचना नहीं मिलने की जानकारी दी, साथ ही औपचारिक रूप से सूचना मिलने के बाद विश्वविद्यालय का पक्ष रखने की बात कही.

Tags
Back to top button