प्राकृतिक आपदा : दो पीडि़त परिवारों को 4-4 लाख रूपए आर्थिक सहायता

समाधान शिविर में 2 हजार 796 लोगों की समस्याओं का हुआ निराकरण

रायपुर : प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान के अंतर्गत आज दुर्ग जिले की ग्राम पंचायत थनौद में आयोजित समाधान शिविर में थनौद सेक्टर में शामिल 10 ग्राम पंचायतों के 2796 आवेदकों की विभिन्न समस्याओं का निराकरण किया गया। इस सेक्टर के गांवों से कुल 2824 आवेदनों ग्रामीणों से मिले थे। थनौद में आयोजित समाधान शिविर में रसमड़ा, गनियारी, खपरी सि., पिपरछेड़ी, अंजोरा ढाबा, बिरेझर, चंगोरी, तिरगा व झोला ग्राम पंचायतें शामिल हैं। शिविर में आवेदकों को उनके आवेदन पर की गई कार्यवाही की जानकारी दी गई।

शिविर में राजस्व विभाग द्वारा 650 स्कूली छात्र-छात्राओं को स्थायी जाति व निवासी प्रमाण पत्र का वितरण किया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा 375 लोगों को जन्म प्रमाण पत्र, 7 हितग्राही का प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास की चाबी सौंपी गई। इसी तरह राष्ट्रीय परिवार सहायता के तहत 4 हितग्राहियों को 20-20 हजार रूपए का चेक प्रदाय किया गया।

खाद्य विभाग द्वारा 30 महिला हितग्राही को उज्जवला योजना एवं 30 लोगों को नए राशनकार्ड का वितरण किया। विद्युत विभाग द्वारा 10 लोगों को सौभाग्य योजना का कनेक्शन एवं एलईडी बल्ब का वितरण, कृषि विभाग द्वारा 10 किसानों को हैण्ड स्प्रेयर एवं मिनीकिट बीज का वितरण, मत्स्य विभाग द्वारा 1 मछुवारा को आईस बाक्स, जिला व्यापार एवं उद्योग विभाग द्वारा 2 उद्यमी को 4 लाख रूपए की ऋण स्वीकृति का चेक का वितरण किया।

समाज कल्याण विभाग द्वारा 10 दिव्यांगों को ट्रायसायकल एवं श्रवण यंत्र, बैशाखी का वितरण किया। 113 युवाओं को मुख्यमंत्री कौशल विकास प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र का वितरण किया। साथ ही शिविर मंे स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महतारी लईका चौपाल, कुपोषित बच्चों की जांच एवं आधार पंजीयन का कार्य भी शिविर स्थल पर किया गया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने समाधान शिविर में प्राकृतिक आपदा से पीडि़त दो परिवारों को आरबीसी 6-4 के तहत 4-4 लाख रूपए आर्थिक सहायता राशि के चेक भेंट किए।

advt
Back to top button