नुलकातोंग में हुए पुलिस नक्सली मुठभेड़ को इस पार्टी ने बताया फर्जी

आम्बेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया ने लगाया आरोप

नुलकातोंग में हुए पुलिस नक्सली मुठभेड़ को इस पार्टी ने बताया फर्जी

रायपुर : बीते 6 अगस्त को सुकमा के नुलकातोंग में पुलिस नक्सली मुठभेड़ में राजनीति शुरू हो गई है. आम आदमी पार्टी की नेत्री सोनी सोरी ने इस मुठभेड़ को फर्जी बताते हुए मारे गए नक्सलियों को बेगुनाह ग्रामीण बताया था. वहीँ अब आम्बेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया ने भी इस मुठभेड़ को फर्जी करार दिया है.

पार्टी ने रायपुर प्रेस क्लब में एक पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि 6 अगस्त को जो मुठभेड़ हुआ था वो फर्जी है. पार्टी के पदाधिकारियों ने कहा कि जिस जगह मुठभेड़ हुआ है वहां पर निर्दोष ग्रामीण थे जो पुलिस को देखकर इधर उधर जा रहे थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें बिना कुछ बोले ही उनपर गोलियां चलानी शुरू कर दी.

पार्टी के लोगों ने कहा कि उन्होंने उस दिन की घटना को लेकर ग्रामीणों से चर्चा की जिसमे ग्रामीणों ने ही बताया है कि मरने वालों में कोई भी नक्सली नहीं था. आम्बेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया ने इस पुरे मामले की जांच कराने की मांग की है. आपको बता दें कि पुलिस नक्सली मुठभेड़ में 15 नक्सलियों के मारे जाने का दावा पुलिस की ओर से किया गया था साथ ही बताया गया था कि कुछ हथियार भी मृतकों से बरामद किये गए थे

Tags
Back to top button