बॉम्बे हाईकोर्ट में NCB का बड़ा खुलासा-ड्रग तस्करी में शामिल थीं रिया चक्रवर्ती, जमानत हो रद्द

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल सामने आने के बाद NCB ने 8 सितंबर को रिया चक्रवर्ती को पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था।

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत केस में सामने आए ड्रग एंगल की वजह से एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती हवालात के पीछे जा पहुंची हैं। हाल ही में सेशन कोर्ट ने एक्ट्रेस की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ा दी है।

वहीं रिया और शौविक की तरफ से एक जमानत याचिका बॉम्बे हाईकोर्ट में भी लगाई गई है। जिसपर सुनवाई जारी है। वहीं रिया और शौविक की जमानत याचिका के खिलाफ NCB ने भी एक याचिका दायर की है। जिसमें रिया और शौविक को नामचीन हस्तियों और ड्रग्स पैडलर से जुड़े मादक पदार्थों के सक्रिय समूह का सदस्य बताया गया है।

हलफनामे में कहा गया है कि इसीलिए एजेंसी ने रिया और शौविक के खिलाफ स्वापक औषधि एवं मन-प्रभावी पदार्थ अधिनियम (एनडीपीएस) की कठोर धारा 27ए के तहत मामला दर्ज किया है।

एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की ओर से दाखिल जवाब में कहा गया कि इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि रिया ने ड्रग तस्करी को फाइनेंस किया। वॉट्सऐप चैट, मोबाइल, लैपटॉप और हार्ड डिस्क से निकाले गए रिकॉर्ड बताते हैं कि रिया चक्रवर्ती ना केवल लगातार इसका सौदा करती थीं,

बल्कि इस अवैध कारोबार को फाइनेंस भी करती थीं। एनसीबी ने एफिडेविट में यह भी कहा है कि यह जानते हुए भी कि सुशांत सिंह राजपूत ड्रग ले रहे हैं, रिया ने इसमें उनका साथ दिया और छिपाया।

वहीं पिछली सुनवाई के दौरान रिया और उनके भाई ने इस मामले में उपरोक्त धारा 27ए का विरोध किया था। साथ ही उनके वकील सतीश मानशिंदे ने कहा था कि NCB ने अब तक केवल 59 ग्राम मादक पदार्थ बरामद किये हैं। यह मात्रा इतनी नहीं है कि माना जा सके कि मादक पदार्थों का कारोबार चल रहा था।

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल सामने आने के बाद NCB ने 8 सितंबर को रिया चक्रवर्ती को पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। वहीं अगर रिया चक्रवर्ती इस मामले में दोषी साबित हो जाती हैं तो उन्हें 10 साल की सजा हो सकती है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button