राष्ट्रीय

एनसीपी सांसद वंदना चव्हाण हो सकती हैं विपक्ष की उम्मीदवार

नौ अगस्त को होना है राज्यसभा उपसभापति चुनाव

नई दिल्ली। राज्यसभा उपसभापति चुनाव में एनसीपी सांसद वंदना चव्हाण विपक्ष की उम्मीदवार हो सकती हैं। अपनी उम्मीदवारी पर एनसीपी सांसद वंदना चव्हाण ने कहा कि मुझे खुशी होगी कि राज्यसभा उपसभापति कोई महिला चुनी जाएं। एनडीए की ओर से जेडीयू सांसद हरिवंश राज्यसभा उपसभापति उम्मीदवार हैं। राज्यसभा के उप सभापति का चुनाव इसी सप्ताह नौ अगस्त को होगा और इसके लिए आठ अगस्त बुधवार तक नामांकन किये जा सकते हैं।

57 वर्षीय चव्हाण को हाल ही में महाराष्ट्र से ऊपरी सदन में फिर से निर्वाचित किया गया था। वह 2012 से राज्यसभा की सदस्य हैं। वंदना चव्हाण की बहन विनीता कामटे का विवाह आईपीएस अफसर अशोक कामटे से हुआ था, जो 26/11 आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे।
सोमवार को राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडु ने चुनाव की तारीख की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सदन के उप सभापति का चुनाव नौ अगस्त को सुबह 11 बजे होगा। इसके लिए नामांकन आठ अगस्त, बुधवार 12 बजे तक स्वीकार किये जाएगें। उन्होंने कहा कि तय सीमा के बाद कोई नामांकन स्वीकार नहीं किया जाएगा। राज्यसभा के उप सभापति पी जे कुरियन के जुलाई में सेवानिवृत्त होने के बाद यह पद रिक्त है।

नई दिल्ली। राज्यसभा उपसभापति चुनाव में एनसीपी सांसद वंदना चव्हाण विपक्ष की उम्मीदवार हो सकती हैं। अपनी उम्मीदवारी पर एनसीपी सांसद वंदना चव्हाण ने कहा कि मुझे खुशी होगी कि राज्यसभा उपसभापति कोई महिला चुनी जाएं। एनडीए की ओर से जेडीयू सांसद हरिवंश राज्यसभा उपसभापति उम्मीदवार हैं। राज्यसभा के उप सभापति का चुनाव इसी सप्ताह नौ अगस्त को होगा और इसके लिए आठ अगस्त बुधवार तक नामांकन किये जा सकते हैं।

57 वर्षीय चव्हाण को हाल ही में महाराष्ट्र से ऊपरी सदन में फिर से निर्वाचित किया गया था। वह 2012 से राज्यसभा की सदस्य हैं। वंदना चव्हाण की बहन विनीता कामटे का विवाह आईपीएस अफसर अशोक कामटे से हुआ था, जो 26/11 आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे।
सोमवार को राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडु ने चुनाव की तारीख की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सदन के उप सभापति का चुनाव नौ अगस्त को सुबह 11 बजे होगा। इसके लिए नामांकन आठ अगस्त, बुधवार 12 बजे तक स्वीकार किये जाएगें। उन्होंने कहा कि तय सीमा के बाद कोई नामांकन स्वीकार नहीं किया जाएगा। राज्यसभा के उप सभापति पी जे कुरियन के जुलाई में सेवानिवृत्त होने के बाद यह पद रिक्त है।

चुनाव को जीतने के लिए 123 मतों की आवश्यकता
244 सदस्यीय उच्च सदन में उपसभापति चुनाव को जीतने के लिए 123 मतों की आवश्यकता पड़ेगी। यदि अन्नाद्रमुक (13), बीजद (नौ), टीआरएस (छह) और वाईएसआर कांग्रेस (दो) का समर्थन एनडीए को मिल जाता है तो उसके पास 126 मत हो जाएंगे। राज्यसभा में बीजेपी के 73 और कांग्रेस के 50 सदस्य हैं। बीजेपी के सहयोगी जदयू, शिवसेना और अकाली दल के क्रमश: छह और तीन- तीन सदस्य हैं।

244 सदस्यीय उच्च सदन में उपसभापति चुनाव को जीतने के लिए 123 मतों की आवश्यकता पड़ेगी। यदि अन्नाद्रमुक (13), बीजद (नौ), टीआरएस (छह) और वाईएसआर कांग्रेस (दो) का समर्थन एनडीए को मिल जाता है तो उसके पास 126 मत हो जाएंगे। राज्यसभा में बीजेपी के 73 और कांग्रेस के 50 सदस्य हैं। बीजेपी के सहयोगी जदयू, शिवसेना और अकाली दल के क्रमश: छह और तीन- तीन सदस्य हैं।