राष्ट्रीय

करीब 1000 स्थानीय और प्रवासी पक्षियों की सांभर झील में मौत

प्रथम दृष्टया यह शिकार का मामला नहीं

जयपुर: करीब 1000 स्थानीय और प्रवासी पक्षियों की झील में मौत हुई है. जिसके बाद इस पर सहायक वन संरक्षक, संजय कौशिक ने कहा, पानी दूषित है या नहीं यह जानने के लिए हम इसका परीक्षण कराएंगे, या फिर इन पक्षियों की मौत किसी वायरल बीमारी के कारण हुई है. हालांकि, प्रथम दृष्टया यह शिकार का मामला नहीं है.’

मामला राजस्थान की राजधानी जयपुर के नजदीक स्थित सांभर झील की है. हालांकि, अब तक इन पक्षियों की मौत का कारण सामने नहीं आया है. जानकारी के अनुसार सांभर झील में 1000 स्थानीय और प्रवासी पक्षियों की मौत हो गई है. जिसके बाद से ही स्थानीय प्रशासन और लोग हैरान हैं.

जयपुर में पहुंचे सरकारी अधिकारियों ने बताया कि पक्षियों का विसेरा जांच के लिए भेज दिया गया है. इसके बाद रिपोर्ट आने के बाद ही पक्षियों की मौत के कारणों का पता चल पाएगा.

इन पक्षियों की हुई मौत

नॉदर्न शावलर, पिनटेल, कॉनम टील, रूडी शेल डक, कॉमन कूट गेडवाल, रफ, ब्लैक हेडड गल, ग्रीन बी ईटर, ब्लैक शेल्डर काइट कैसपियन गल, ब्लैक विंग्ड स्टील्ट, सेंड पाइपर, मार्श सेंड पाइपर, कॉमस सेंड पाइपर, वुड सेंड पाइपर पाइड ऐबोसिट, केंटिस प्लोवर, लिटिल रिंग्स प्लोवर, लेसर सेंड प्लोवर जैसे पक्षियों की जान चली गई है.

Tags
Back to top button