टेस्ट गेंदबाज के रूप में सुधार करने के लिए और समय की जरूरत – कुलदीप यादव

भारत के सात विकेट पर 622 रनों की घोषित पहली पारी के जवाब में 236 रनों पर छह विकेट गंवाकर जूझ रही है.

ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर अपने पहले टेस्ट में प्रभावित करने वाले भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव ने कहा कि उन्हें टेस्ट गेंदबाज के रूप में सुधार करने के लिए और समय की जरूरत है.

24 साल के बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर ने तीन विकेट हासिल किए, जिससे ऑस्ट्रेलियाई टीम चौथे टेस्ट के तीसरे दिन भारत के सात विकेट पर 622 रनों की घोषित पहली पारी के जवाब में 236 रनों पर छह विकेट गंवाकर जूझ रही है.

लॉर्ड्स के बाद विदेशी सरजमीं पर अपना पहला टेस्ट खेल रहे कुलदीप ने कहा कि वह थोड़े नर्वस थे.

कुलदीप ने शनिवार को कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैंने ऑस्ट्रेलिया में गेंदबाजी करने के लिए कुछ भी बदलाव नहीं किया है.

मैं इस सीरीज में अपना पहला टेस्ट खेल रहा हूं इसलिए थोड़ा नर्वस था.’ कुलदीप ने कहा, ‘मैं इतना क्रिकेट खेल चुका हूं कि मुझे ठीक ठाक जानकारी है, लेकिन टेस्ट क्रिकेट में मुझे शायद सुधार करने के लिए थोड़े और समय की जरूरत है.

आप जितना अधिक लाल गेंद से खेलोगे, उतना ही ज्यादा आप सुधार कर सकते हो.’ उन्होंने कहा कि मैच में खेलने के अनुभव का कोई दूसरा विकल्प नहीं हो सकता, इसी से एक गेंदबाज के प्रदर्शन में सुधार होता है.

कुलदीप ने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट भी ऐसा ही, जितना ज्यादा आप खेलोगे, उतने बेहतर ढंग से आप बल्लेबाज को पढ़ सकोगे. बल्लेबाज के लिए योजना बनाने के लिए आपके पास समय होगा और आप उतने ही ज्यादा ओवर फेंक सकोगे और क्षेत्ररक्षण को बदल सकोगे.’

उन्होंने कहा, ‘सफेद गेंद के क्रिकेट की तुलना में लाल गेंद के क्रिकेट में ज्यादा दबाव होता है. लेग स्पिनर के तौर पर आपको इसके अनुरूप खुद को बदलने और चीजों को नियंत्रित करने के लिए आपको कम से कम 10 दिन की जरूरत होती है.’

बता दें कि कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा ने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड की सपाट सी पिच पर शनिवार को अपनी फिरकी का कमाल दिखाया, जिससे भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच के बारिश से प्रभावित तीसरे दिन भी अपना पलड़ा भारी रखा.

ऑस्ट्रेलिया जब छह विकेट पर 236 रन बनाकर फॉलोऑन बचाने के लिए संघर्ष कर रहा था, तब तीसरे सेशन में बारिश उसके बचाव में आई. जिसके बाद आगे का खेल नहीं हो पाया.

भारत अब भी ऑस्ट्रेलिया से 386 रन आगे है. भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी.

बारिश के कारण तीसरे दिन लगभग 16 ओवर का खेल नहीं हो पाया और अब चौथे दिन का खेल आधा घंटा पहले शुरू होगा.

ऐसे में देखना है कि पीटर हैंडस्कॉम्ब (नाबाद 28) और पैट कमिंस (नाबाद 25) ऑस्ट्रेलियाई संघर्ष को कहां तक खींच पाते हैं.

इन दोनों ने अब सातवें विकेट के लिए 38 रन जोड़े हैं. चौथे और पांचवें दिन का खेल आधा घंटा पहले यानी भारतीय समयानुसार सुबह 4:30 बजे से शुरू होगा.

ऑस्ट्रेलिया अभी भी भारत से 386 रन पीछे है. ऑस्ट्रेलिया पर फॉलोऑन का खतरा भी मंडराने लगा है. SCG की पिच से भारतीय तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी (54 रन देकर एक विकेट) और जसप्रीत बुमराह (43 रन देकर कोई विकेट नहीं) को खास मदद नहीं मिली,

लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर जडेजा (62 रन देकर दो) और चाइनामैन स्पिनर कुलदीप यादव (71 रन देकर तीन) ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की नाक में दम किए रखा.

1
Back to top button