नीरज बाजपेयी इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ाई के साथ मिलेगा गरमा गरम नाश्ता

न्यूट्रीशन को ध्यान में रखकर तैयार किया गया मीनू, बच्चों को ज्यादा देर तक ऊर्जा देने वाले खाद्य पदार्थों को किया खाने में शामिल

राजनांदगांव। शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी संस्था नीरज बाजपेयी इंटरनेशनल स्कूल बोरी ने अब बच्चों के स्वास्थ्य पर अपना ध्यान केंद्रित करते हुए स्कूल में ही बच्चों को सुबह का नाश्ता दिया जाने की प्लानिंग की है। इसके लिए नया मीनू तैयार किया गया है। इसके तहत बच्चों को दिए जाने वाले सुबह के नाश्ते में न्यूट्रीशन वाले खाद्य पदार्थ शामिल किया जाएगा।

इससे बच्चों को अधिक ऊर्जा प्राप्त होगी और वह अधिक समय तक एक्टिव रहकर पढ़ाई और खेल दोनों में ही अपना वर्चस्व बनाने में सफल होंगे। यहां पर यह बताना लाजमी है कि एनबीआईएस बोरी में बच्चों के शिक्षा के साथ ही उनके खानपान पर विशेष ध्यान दिया जाता है। संस्था के डायरेक्टर नीरज बाजपेयी एवं सोनल बाजपेयी ने बताया कि बच्चों के स्वास्थ्य को देखते हुए संस्था ने इस सत्र से बच्चों को नाश्ता दिए जाने का फैसला लिया है। इसके लिए अलग से कुक की नियुक्ति की गई है। इसके साथ ही बच्चों को रोजाना अलग-अलग तरह के नाश्ते का प्रबंध करने की जिम्मेदारी दी गई है।

तैयार किया गया मीनू : बाजपेयी ने बताया कि बच्चों के लिए अलग से मीनू तैयार कराया गया है। इस मीनू में इस बात पर फोकस किया गया है कि बच्चों को ऐसे खाद्य पदार्थ उपलब्ध कराया जाए, जो उन्हें ज्यादा देर तक ऊर्जा प्रदान करें। ऐसा करने से बच्चे के स्वास्थ्य में बेहतर सुधार होगा। इसके साथ ही वह पढऩे और खेलकूद जैसी गतिविधियों में खुल कर हिस्सा ले सकेगा।

अभिभावकों से लिया सुझाव : संस्था ने बच्चों के अभिभावकों से बच्चों को सुबह नाश्ता दिए जाने के संबंध में पूर्व में ही सुझाव ले लिया था। सुझाव के आधार पर इस सत्र से स्कूल में ही नाश्ता दिए जाने का फैसला लिया गया है। संस्था के द्वारा कराए गए सर्वे में अभिभावकों ने बताया था कि बच्चों को स्वादिष्ट एवं पौष्टिक नाश्ते की सर्वाधिक आवश्यकता होती है।

अगर यह नाश्ता स्कूल में ही उपलब्ध हो तो बच्चों के लिए ज्यादा बेहतर होगा। पालकों के इस सुझाव को मानते हुए संस्था प्रमुख नीरज बाजपेयी ने 1 जुलाई से सुबह बच्चों को नाश्ता दिए जाने की पहल की है। उन्होंने बताया कि नाश्ते में बच्चों को अंकुरित स्प्राउट्स और मौसमी फल दिए जाने की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही नाश्ते में उपयोग किया जाने वाले तेल की क्वालिटी पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

new jindal advt tree advt
Back to top button