पड़ोसन ने 4 साल की मासूम को मौत के घाट उतारा

राजनांदगांव। राजभानपुरी में रहस्मयी ढंग से गायब चार वर्षीय डिंपल निर्मलकर की लाश अंजोरा बाइपास के पास मिली। डिंपल की हत्या पड़ोस में रहने वाली आरती साहू ने ही की थी। इसका खुलासा मंगलवार को पुलिस ने प्रेसवार्ता में किया। पुलिस के अनुसार आए दिन आरोपित महिला आरती की बेटी और डिंपल के बीच लड़ाई होती थी। इस कारण महिला डिंपल से चिढ़ती थी। इसी का बदला लेने आरोपित महिला आरती ने पूरे प्लान के साथ डिपंल को अपने घर बुलाया और पीटने लगी।

इसी बीच डिंपल ने आरती के हाथ को दांत से काट लिया। डिंपल की इस हरकत के बाद आरती अपना आपा खो बैठी और पलंग के एक कोने में डिंपल के सिर को पटक दिया। इससे उसकी मौत हो गई। उसके बाद लाश को फिल्मी अंदाज में ठिकाने लगाने के बाद सबको गुमराह करने नसबंदी आपरेशन के बहाने खुद अस्पताल में भर्ती हो गई।

डिपंल 18 दिनों से गायब थी। जिसकी रिपोर्ट डिपंल के पिता रूपराम निर्मलकर ने लालबागे थाने में दर्ज कराई थी। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस लगातर जांच में जुटी रही। वहीं पड़ोसियों पर भी नजर रख रही थी। इसी बीच आरती पर पुलिस को शक हुआ। पुलिस ने आरती से पूछताछ की।

कड़ाई से पूछताछ करने के बाद आरती ने डिंपल की हत्या कर लाश को बोरी में भरकर ठिकाना लगाना स्वीकार किया। ठाकुरटोला टोल प्लाजा से आटो का नंबर निकाला गया और फिर चालक से पूछताछ के बाद लाश की बरामदगी की गई।

Back to top button