राष्ट्रीय

14 जुलाई से भारत में भी दिखेगा NEOWISE धूमकेतु

फ़िलहाल यह सोलर सिस्टम के बाहर की तरफ जा रहा है.

आकाश और चांद-तारों में दिलचस्पी रखने वालों के लिए एक अच्छी खबर है. हज़ार साल में एक बार दिखने वाला धूमकेतु C/2020 F3 जिसे NEOWISE के नाम से जानते हैं, 14 जुलाई से भारत में भी दिखायी देगा. ओडिशा के पठानी सामंता प्लैनेटेरियम के वैज्ञानिकों के मुताबिक ये धूमकेतु (Comet) उत्तरी-पश्चिमी दिशा में आकाश में बिना किसी ख़ास चश्मे और खगोलीय उपकरण के भी आसानी से देखा जा सकेगा.

प्लैनेटेरियम के डिप्टी डायरेक्टर, डॉ. शुभेंदु पटनायक ने बताया कि, ’14 जुलाई से NEOWISE भारत में हर दिन सूर्यास्त के समय लगभग 20 मिनट तक दिखायी देगा. लोग इसे बिना किसी ख़ास चश्मे और दूरबीन के भी आसानी से देख सकेंगे.’ उन्होंने बताया कि, ’30 जुलाई तक यह धूमकेतु सप्तर्षि मंडल के पास होगा, तब यह आसमान में 1 घंटे तक चमकेगा. जुलाई के बाद इसकी चमक कम होने लगेगी, लेकिन तब भी इसे दूरबीन की मदद से देखा जा सकेगा.’

NEOWISE की खोज 27 मार्च 2020 को NASA के मिशन के दौरान हुई थी. 22 जुलाई 2020 को यह धरती के सबसे करीब, लगभग 103 मिलियन किलोमीटर की दूरी पर होगा. फ़िलहाल यह सोलर सिस्टम के बाहर की तरफ जा रहा है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button