मनोरंजन

फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म, उठनी चाहिए इसके खिलाफ आवाज: बाबिल खान

दिवंगत एक्टर इरफान खान के बेटे बाबिल खान का रिएक्शन

मुंबई: दिवंगत बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपुत को लेकर फिल्म इंडस्ट्री में की गई नेपोटिज्म को लेकर दिवंगत एक्टर इरफान खान के बेटे बाबिल खान का रिएक्शन भी सामने आया है. बाबिल ने अपने एक पोस्ट में कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म है और इसके खिलाफ आवाज भी उठनी चाहिए लेकिन इसके लिए किसी की मौत का सहारा लेना गलत है.

बाबिल ने लिखा, ”हमने दो बेहद उम्दा कलाकारों को खो दिया है और ये यकीन कर पाना बेहद मुश्किल है. सुशांत का इस तरह चले जाना बेहद शॉकिंग था. लेकिन हम इसका आरोप किसी चीज या लोगों पर लगा रहे हैं, ये अपने आप में बेहद खराब है. हमारे सुकून के लिए हम किसी और पर दोष मढ रहे हैं. ये भी तो एक प्रकार का झूठ ही है.

मैं आप सभी से ये रिक्वेस्ट करता हूं कि ये बंद कर दें. हमें ये स्वीकार करना होगा कि जिंदगी उतार-चढ़ावों से भरी हुई है और हमें इसे ऐसे ही स्वीकारना होता है. मैं कहना चाहता हूं कि इसके पीछे के कारण को ढूंढना बंद कर दें. इस सब से उन लोगों को सबसे ज्यादा दुख पहुंच रहा है जिन्होंने असल में अपना खोया है.”

उन्होंने नेपोटिज्म को लेकर कहा, ”मैं कहना चाहता हूं कि जो गलत उसके खिलाफ खड़े हों. नेपोटिज्म के खिलाफ आवाज उठाएं लेकिन ये आवाज ये कहकर न उठाएं कि आप ये सुशांत के लिए कर रहे हैं. जो सही है उसके लिए खड़े हों. ये मेरी भी लड़ाई रहेगी कि मैं खुद को साबित कर सकूं कि मैं शॉट के लायक हूं.”

Tags
Back to top button