छत्तीसगढ़

रसोई गैस कनेक्शन के नये आवेदन आगामी माह अपै्रल से लिए जाएंगे : मुख्यमंत्री

लगभग 60 लाख रूपए की लागत के निर्माण कार्यों की मंजूरी

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि जिन लोगों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत रसोई गैस कनेक्शन नहीं मिले हैं, वे आगामी अपै्रल माह में आवेदन कर सकते हैं। उन्हें भी गैस कनेक्शन दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने आज राजनांदगांव जिले के ग्राम डुमरटोला (विकासखण्ड-मोहला) में आयोजित समाधान शिविर में जनता को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। डॉ. सिंह इस शिविर में हेलीकॉप्टर से अचानक पहुंचे। मुख्यमंत्री ने शिविर में ग्रामीणों से सीधे बात की और उनसे शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली। इस समाधान शिविर में नौ ग्राम पंचायतों डुमरटोला, आमाटोला, बिरझुटोला, दनगढ़, जोबटोला, कोड़ेतर्रा, मोतीपुर, मुनगाडीह और सोमाटोला के ग्रामीण शामिल हुए।

मुख्यमंत्री ने शिविर में अधिकारियों से कहा कि भूमि समतलीकरण और डबरी निर्माण के जितने भी आवेदन आए हैं, उन सभी को स्वीकृत किया जाए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर भू-समतलीकरण के 139, डबरी निर्माण के 17 और तालाब गहरीकरण के 23 आवेदन स्वीकृत किए गए। डॉ. सिंह ने ग्रामीणों के आग्रह पर डुमरटोला के समाधान शिविर में 60 लाख रूपए से ज्यादा लागत के निर्माण कार्य मंजूर करने की घोषणा की।

उन्होंने ग्राम पंचायत दनगढ़ में नए पंचायत भवन निर्माण के लिए 14 लाख 15 हजार रूपए, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र दनगढ़ को एम्बूलेंस खरीदने के लिए 10 लाख रूपए, डुमरटोला प्राथमिक शाला में बाउन्ड्रीवाल निर्माण के लिए 4 लाख रूपए, मुनगाडीह मिडिल स्कूल में बाउन्ड्रीवाल के लिए 3 लाख रूपए, हलामीटोला में नलजल योजना के लिए 10 लाख रूपए, सोमाटोला में खाद गोदाम के लिए 10 लाख रूपए और कुलबोड़ी से कोदेवरा तक डब्ल्यू. बी.एम. सड़क के लिए भी 10 लाख रूपए मंजूर किए गए। उत्तरवाही में नए प्राथमिक शाला भवन और सोमाटोला के हाई स्कूल में अतिरिक्त कमरा निर्माण की स्वीकृति दी।

मुख्यमंत्री को ग्रामीणों ने शिविर में बिजली के कम वोल्टेज की समस्या बतायी, जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी डुमरटोला क्षेत्र में दल्लीराजहरा से बिजली सप्लाई हो रही है। मोहल में 132 केव्ही का एक विद्युत सब-स्टेशन बन रहा है जो जून तक पूरा हो जाएगा। इसके बाद डुमरटोला और आसपास के गांवों में भी बिजली के कम वोल्टेज की समस्या दूर हो जाएगी। मुख्यमंत्री ने शिविर में सौभाग्य योजना के तहत घरेलू बिजली कनेक्शन की स्वीकृति पर हितग्राहियों को प्रमाण-पत्र, रसोई गैस कनेक्शन और तेंदू पत्ता संग्राहकों को चरण पादुकाएं वितरित की। शिविर में मुख्य सचिव अजय सिंह और मुख्यमंत्री के विशेष सचिव मुकेश बंसल भी उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.