बड़ी खबरराष्ट्रीय

राम मंदिर निर्माण के साथ ही 400 हेक्टेयर जमीन पर विस्तार लेगी नई अयोध्या

प्रधानमंत्री मोदी के अयोध्या आगमन से राममंदिर निर्माण के साथ अलौकिक अयोध्या की आधारशिला भी रखे जाने की योजना है.

अयोध्या : अयोध्या (Ayodhya) में 5 अगस्त को राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण की आधारशिला रखने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अयोध्या पहुंच रहे हैं. माना जा रहा है कि राम मंदिर की आधारशिला के साथ ही नई अयोध्या की आधारशीला रखी जाएगी. राम मंदिर के साथ अयोध्या का भी रंग रूप बदलने लगेगा. अब राम नगरी को भी काशी की तर्ज पर बदलने की तैयारी है.

अयोध्या एक तरफ जहां आधुनिक होगी, वहीं अयोध्या की पौराणिकता को बचा कर पुराणों के त्रेता युग की झलक भी देखने मिलेगी. प्रधानमंत्री मोदी के अयोध्या आगमन से राममंदिर निर्माण के साथ अलौकिक अयोध्या की आधारशिला भी रखे जाने की योजना है. पेश है खास रिपोर्ट.

आधुनिक टाउनशिप के साथ त्रेतायुग की झलक

राममंदिर निर्माण की आधार शिला रखने के साथ ही अयोध्या का भी रंग रूप बदलने लगेगा. पौराणिक अयोध्या के समानांतर ही आधुनिक राम नगरी की परिकल्पना की जा रही है. जानकारी के मुताबिक आधुनिक टाउनशिप के साथ त्रेतायुग की अयोध्या के विकास के लिए मुख्यमंत्री योगी के निर्देश पर यूपी आवास विकास के आलाधिकारियों ने इसकी प्लानिंग राममंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नेपरेंद्र मिश्रा से साझा की है.अयोध्या के उत्तर पूर्व कोने पर होगा ये विस्तार

विश्वस्त सूत्रों की मानें तो यह नगर 400 हेक्टेयर भूभाग में विस्तार लेगा. इसमें अयोध्या की सांस्कृतिक विरासत की झलक देखने को मिलेगी, जो अयोध्या के उत्तर पूर्व कोने पर विकसित करने की योजना है. जानकारी के अनुसार अयोध्या के उत्तर पूर्व इलाके में सरयू के कछार से जुड़े भूभाग पर इस टाउनशिप को डेवलप किए जाने की योजना है.

श्रद्धालुओं के होंगे विशेष इंतजाम

दरअसल राम मंदिर निर्माण के साथ ही देश-विदेश से तमाम श्रद्धालु अयोध्या आएंगे. वर्तमान अयोध्या के स्वरूप और आकर छोटा है. माना जा रहा है कि यहां श्रद्धालुओं को ठहरने सहित अन्य सुविधाओं की कमी है. यही वजह है कि नई अयोध्या की परिकल्पना की गई है. 400 हेक्टेयर वाली नई अयोध्या के भीतर साधु-संतो के आश्रम के साथ ही आवासीय कालोनी माल रेस्टोरेंट भी होंगे. जानकार सूत्रों की जाने तो अयोध्या को नियोजित टाउनशिप के आधार पर डेवलप करने की योजना बनाई जा रही है.

4 गावों में रजिस्ट्री और बैनामे पर रोक

इस खबर की पुष्टि इसी से की जा रही है कि सरयू कछार से जुड़े 4 गावों में रजिस्ट्री और बैनामे पर रोक लगा दी गई है. माना जा रहा है कि सरकार इसी जगह पर ही नियोजित टाउनशिप बसाने जा रही है. अयोध्या के महापौर की मानें तो अयोध्या का गौरव प्रतिष्ठित होने जा रहा है. प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी की अगुवाई में कई योजनाए जमीन पर उतरेंगी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button