स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में चलाया जाएगा न्यू इंडिया @75 जागरूकता अभियान

छत्तीसगढ़ में प्रथम चरण के अभियान के लिए वर्चुअल बैठक में तय की गई रूपरेखा

युवाओं और किशोरों को 3 चरणों में एड्स, टीबी और रक्तदान के संबंध में किया जाएगा जागरूक

रायपुर 29 जुलाई 2021 : भारत सरकार देश के स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ 2022 के उपलक्ष्य में विकास को जनआंदोलन से जोड़ते हुए नए भारत @75 की अवधारणा के साथ जन-जागरूकता अभियान शुरू करने जा रही है। जागरूकता अभियान में सभी राज्यों के 75 स्कूलों और 75 कॉलेजों में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा।

इसके साथ ही भारत सरकार के सभी विभाग और मंत्रालय भी जन-जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करेंगे। इसी तारतम्य में प्रथम चरण के जागरूकता अभियान की रूपरेखा तैयार करने के लिए छत्तीसगढ़ राज्य एड्स नियंत्रण समिति द्वारा वर्चुअल बैठक आयोजित की गई।

प्रथम चरण में अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस 12 अगस्त से राज्य के 25 आरआरसी और 25 विद्यालयों में केन्द्रीय स्वास्थ सचिव द्वारा एचआईवी, टीबी और रक्तदान जागरूकता गतिविधयों का शुभारंभ किया जाएगा। प्रथम चरण का यह अभियान 20 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी। विजेता महाविद्यालयों और विद्यालयों को राज्य स्तर पर पुरस्कृत किया जाएगा।

राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (नाको) के मार्गदर्शन में छत्तीसगढ़ राज्य एड्स नियंत्रण समिति द्वारा राज्य के उच्च प्राथमिकता वाले जिले रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, राजनांदगांव, जांजगीर-चांपा, कोरबा और बेमेतरा में न्यू इंडिया @75 जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। प्रथम चरण के लिए दुर्ग और बेमेतरा जिले को चिन्हित किया गया है।

जागरूकता अभियान

बैठक में बताया गया कि जागरूकता अभियान के माध्यम से युवाओं और किशोरों में एचआईवी, टीबी और रक्तदान के संबंध में जागरूकता को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। इस दौरान एचआईवी की रोकथाम और उससे पीड़ित लोगों के प्रति भेद-भाव को कम करने का प्रयास और स्वेच्छिक रक्तदान के लिए युवाओं को प्रेरित किया जाएगा। लोगों को इलाज कहां और कैसे कराना है इसकी जानकारी दी जाएगी।

स्कूल और कॉलेजों में कोविड की स्थिति को देखते हुए भौतिक या ऑनलाइन माध्यम से गतिविधियों का आयोजन होगा। सोशल मीडिया के माध्यम से भी लोगों को जागरूक किया जाएगा। इसके लिए राज्य स्तरीय समिति भी गठित की गई है जिसमें छत्तीसगढ़ राज्य एड्स नियंत्रण समिति के परियोजना संचालक अध्यक्ष, अतिरिक्त परियोजना संचालक उपाध्यक्ष और एडी यूथ संयोजक हैं।

बैठक में स्कूल शिक्षा, राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद, समाज कल्याण और जनसंपर्क विभाग के अधिकारी, राज्य क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, एनएसएस, नेहरू युवा केन्द्र संगठन के नोडल अधिकारी, दुर्ग और बेमेतरा जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी,एचआईवी/टीबी के जिला नोडल अधिकारी,जिला शिक्षा अधिकारी सहित तकनीकी विश्वविद्यालय और हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग के नोडल अधिकारी शामिल हुए।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button