ई-कॉमर्स कंपनियां फॉस्र्ट डिलीवरी के लिए करेंगी ड्रोन का इस्तेमाल

सरकार ड्रोन पॉलिसी के दूसरे फेज में उसके पायलट की नजरों के सामने रहने की जरूरत खत्म कर सकती है।

नई दिल्ली

ऐमजॉन और फ्लिपकार्ट जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां अब घरों में डिलीवरी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल शुरू कर सकेंगी में उसके पायलट की नजरों के सामने रहने की जरूरत खत्म कर सकती है। सरकार ने मंगलवार को इस योजना का ऐलान किया।

पॉलिसी के ड्राफ्ट रूल को जल्द पेश किया जा सकता है। इस प्रपोजल की जानकारी उद्योग चैंबर फिक्की के साथ सिविल एविएशन मिनिस्ट्री की तरफ से आयोजित दो दिन के ग्लोबल एविएशन शो में दी गई।

ड्रोन ऑपरेशंस को लीडरशिप पोजिशन में लाने की


एविएशन मिनिस्टर जयंत सिन्हा ने कहा, ‘प्रायरिटी इंडिया को ड्रोन ऑपरेशंस में लीडरशिप पोजिशन में लाने की है। मैं उम्मीद करता हूं कि ड्रोन 2.0 जल्द वजूद में होगा।’ उन्होंने कहा कि मार्केट कितनी तेजी से ड्रोन सिस्टम को अपनाता है,

यह देखने के लिए बस पब्लिक प्लेटफॉर्म बनाने भर की देर है। सिन्हा ने कहा, ‘हमें ड्रोन ऑपरेशन से जुड़ी गंभीर चुनौतियों को दूर करने के लिए उस पर बारीकी से काम करने की जरूरत है। हमें ड्रोंन का सुरक्षित और कानूनी इस्तेमाल सुनिश्चित करना होगा।’

1
Back to top button