अंतर्राष्ट्रीय

चीन में नये वायरस का कहर! सात लोगों की मौत, 60 से ज्यादा हुए संक्रमित

डॉक्टरों को उसके शरीर में ल्यूकोसाइट और प्लेटलेट के कम होने का पता चला.

बीजिंग: चीन में एक नयी संक्रामक बीमारी (New Infectious Disease) से सात लोगों की मौत (seven Died) हो गयी है और 60 से अधिक लोग इससे संक्रमित हो गए हैं.

चीन के सरकारी मीडिया ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए मनुष्यों के बीच संक्रमण फैलने की आशंका को लेकर चेतावनी जारी की गई है. पूर्वी चीन के जियांग्सू प्रांत में साल की पहली छमाही में एसएफटीएस वायरस (SFTS Virus) से 37 से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं.

​जियांग्सू में 23 लोग हुए थे संक्रमित

सरकारी ग्लोबल टाइम्स ने खबरों के हवाले से कहा कि बाद में पूर्वी चीन के अन्हुई प्रांत में 23 लोगों के संक्रमित होने का पता चला है. इस वायरस से संक्रमित जियांग्सू की राजधानी नानजियांग की एक महिला को शुरू में खांसी और बुखार के लक्षण दिखाई दिये थे. डॉक्टरों को उसके शरीर में ल्यूकोसाइट और प्लेटलेट के कम होने का पता चला. एक महीने के इलाज के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दी गयी.

रिपोर्ट के अनुसार, अन्हुई और पूर्वी चीन के झेजियांग प्रांत में कम से कम सात लोगों की वायरस से मौत हो गयी. एसएफटीएस वायरस नया नहीं है। चीन में 2011 में इसका पता चला था. विषाणु विज्ञानियों का मानना है कि यह संक्रमण पशुओं के शरीर पर चिपकने वाले किलनी (टिक) जैसे कीड़े से मनुष्य में फैल सकता है और फिर मानव जाति में इसका प्रसार हो सकता है.

डब्ल्यूएचओ और चीन मिलकर कोरोना का पता लगाएंगे

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के दो विशेषज्ञों के चीन दौरे के बाद बीजिंग और संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने की योजना पर बातचीत कर रहे हैं. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने बीते मंगलवार को पत्रकारों से कहा कि विशेषज्ञों ने अपने दो हफ्ते के प्रवास के दौरान वायरस के उद्गम का पता लगाने के लिए वैज्ञानिक अनुंसधान में सहयोग हेतु प्रारंभिक विचार-विमर्श किया है. उनका दो हफ्ते का प्रवास गत रविवार को समाप्त हुआ है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button