राष्ट्रीय

RBI : नोटों के वेरिफिकेशन के लिए खरीदेगा 50 मशीनें

भारतीय रिजर्व बैंक ने चलन से हटाए गए 500 और 1,000 रुपये के नोटों समेत सभी राशि के नोटों की गणना, उसकी छंटाई तथा सत्यापन के लिए 50 मुद्रा सत्यापन और प्रसंस्करण मशीन लेने की योजना बनाई है|केंद्रीय बैंक ने इन मशीनों के लिये वैश्विक निविदा जारी की है| इन मशीनों को देश भर में आरबीआई के 18 क्षेत्रीय कार्यालयों में लगाने की योजना है|

अनुरोध प्रस्ताव के तहत मशीन कंप्यूटर आधारित और माइक्रोप्रोसेसर नियंत्रित होना चाहिए

साथ ही इसे नोटों के प्रसंस्करण, गिनती तथा छंटाई और सत्यापन में सक्षम होना चाहिए| इन मशीनों से यह पता लगाया जाएगा कि कोई नोट चलन के लिए उपयुक्त हैं या नहीं|

ये मशीनें खारिज नोट, संदिग्ध/फर्जी नोट की पहचान तथा डिजाइन और श्रृंखला के आधार पर भी नोटों की छंटाई करेंगी| इसमें कहा गया है कि प्रत्येक मशीन की कम-से-कम 30 बैंक नोट प्रति सेकेंड प्रसंस्करण की क्षमता होनी चाहिए|

निविदा में कहा गया है कि मशीन को सभी राशि और श्रृंखला के भारतीय बैंक नोट (500 और 1,000 रुपये के नोट समेत) के प्रसंस्करण में सक्षम होना चाहिए| वित्त मंत्रालय के अनुसार 8 नवंबर को नोटबंदी की घोषणा के समय 500 रुपये के 1,716.50 करोड़ तथा 1,000 रुपये के 685.80 करोड़ नोट चलन में थे|रिजर्व बैंक ने चलन से हटाए जाने के बाद बैंकों के पास जमा नोट की राशि के बारे में अब तक घोषणा नहीं की है|

Tags
Back to top button