डायबिटीज के शिकार हैं निक जोनस ,ऐसे रख रही प्रियंका चोपड़ा उनका ध्यान

निक ने इस पोस्ट में बताया है कि कैसे वो अपनी डायट और जीवनशैली का ख्याल रखते हैं

अमेरिकी सिंगर और प्रियंका चोपड़ा के मंगेतर निक जोनस ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक पोस्ट के जरिए यह खुलासा किया है कि उन्हें डायबिटीज है।

निक जोनस ने लिखा है कि जब वह 13 साल के थे तब उन्हें पता चला कि उन्हें टाइप-1 डायबिटीज है जिसके कारण उनका काफी वजन भी कम हो गया था। 23 साल के निक अब स्वस्थ और सेहतमंद है जिसका श्रेय उनकी हेल्दी लाइफस्टाइल को जाता है।

निक ने इस पोस्ट में बताया है कि कैसे वो अपनी डायट और जीवनशैली का ख्याल रखते हैं और स्वस्थ भोजन करते हैं जिससे वो अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल में रख पाते हैं।

निक ने अपनी 13 साल पहले और बाद की तस्वीर शेयर की है जिसके साथ कैप्शन में उन्होंने लिखा है कि वो, अपने शारीरिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हैं, वर्कआउट करते हैं और स्वस्थ आहार लेते ताकि अपनी ब्लड शुगर को कंट्रोल में रख सके।

निक जोनस ने अपने इस पोस्ट के जरिए बताया कि डायबिटीज के साथ जीवन गुजारना मुश्किल है लेकिन आप इसे आसान बना सकते हैं, अगर आप सही आहार लें और एक्सरसाइज करें।

अगस्त में सगाई कर चुके अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस दिसंबर में उदयपुर में शादी करने वाले हैं।

क्या है टाइप-1 डायबिटीज:

टाइप 1 डायबिटीज मेलिटस(टी-1डीएम) एक क्रोनिक टी-सेल ऑटोम्यून्यून डिजीज है। इंडियन जर्नल ऑफ़ एंडोक्राइनोलॉजी एंड मेटाबोलिज्म में प्रकाशित एक आर्टिकल के मुताबिक, टी-1डीएम मुख्य रूप से जेनेटिक कारकों, पर्यावरणीय कारकों और इम्यून रेगुलेटरी मेकेनिज्म डिसऑर्डर के कारण होता है। इन तीनों कारकों के मिलने से ऑटोइम्यून डिजीज होती है।

इससे बचाव के लिए: टाइप-1 डायबिटीज के दौरान अन्य समस्याओं को होने से रोकने के लिए आपको

स्वस्थ और संतुलित आहार लेना चाहिए।

हर रोज और नियमित एक्सरसाइज करें।

डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाईयों का सेवन समय से करते रहें।

समय-समय पर ब्लड शुगर की जांच कराएं।

कार्बोहाइड्रेट्स का सेवन कम करें।

अपने आहार में शुगर की मात्रा को चेक करते रहें।

 <>

1
Back to top button