हफ्ते के आखिरी दिन भी चढ़ा शेयर बाजार, निफ्टी 10,850 के पार

निफ्टी 50 पैक पर यस बैंक के शेयरों ने 6 फीसदी से अधिक की छलांग लगाई.

नई दिल्ली: यह हफ्ता शेयर बाजार के लिहाज से खास रहा. सप्ताह के पांचों दिन बाजार हरे निशान में बंद होने में कामयाब रहे. हालांकि पूरे सत्र के दौरान प्रमुख सूचकांक चढ़ते-उतरते रहे. फार्मा शेयरों ने बाजार को मजबूती दी.

बीएसई सेंसेक्स ने 24 अंक या 0.07 फीसदी की मामूली बढ़त के साथ 36,194 पर सप्ताह का कारोबार खत्म किया. निफ्टी 50 इंडेक्स 18 अंक या 0.17 फीसदी की तेजी के साथ 10,859 पर बंद हुआ. मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स भी आधा फीसदी तक चढ़े.

निफ्टी 50 पैक पर यस बैंक के शेयरों ने 6 फीसदी से अधिक की छलांग लगाई. इसके बाद विप्रो, सिप्ला, डॉ. रेड्डीज लैब्स, टेक महिंद्रा, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एचडीएफसी, कोटक महिंद्रा बैंक, इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस और ग्रासिम के शेयरों में सबसे ज्यादा तेजी दर्ज की गई.

दूसरी तरफ, हिंदुस्तान पेट्रोलिमय के शेयरों ने 4.5 फीसदी तक का गोता लगाया. इसके बाद भारती इंफ्राटेल, टाटा मोटर्स, यूपीएल, एनटीपीसी, आईसीआईसीआई बैंक, वेदांता, इंडसइंड बैंक, एक्सिस बैंक और टाटा स्टील के शेयरों में सबसे ज्यादा कमजोरी देखने को मिली.

शुक्रवार को निफ्टी पीएसयू बैंक और मेटल इंडेक्स ने आधा फीसदी तक की गिरावट दर्ज की. पीएसयू बैंकों में विजया बैंक के शेयर 3 फीसदी तक लुढ़के. मेटल इंडेक्स पर वेलस्पन कॉर्प के शेयर भी 3 फीसदी तक कमजोर पड़े. निजी बैंक इंडेक्स भी गिरकर बंद हुआ.

रियल्टी व फार्मा इंडेक्स 2-2 फीसदी और आईटी इंडेक्स इंडेक्स 1 फीसदी से अधिक चढ़े. रियल्टी शेयरों में प्रेस्टीज एंटरप्राइजेज ने 10 फीसदी की उड़ान भरी. फार्मा शेयरों में सिर्फ डिविज लैब्स के शेयर ही लुढ़के. आईटी इंडेक्स पर माइंडट्री ने 4 फीसदी तक की छलांग लगाई.

शुक्रवार के कारोबारी सत्र के दौरान, एनएसई पर केवल सात कंपनियों के शेयरों ने अपने 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर हासिल किया. इसके उलट 87 कंपनियों के शेयर अपने 52 सप्ताह के न्यूनतम स्तर तक भी फिसले.

निफ्टी 50 इंडेक्स पर 24 शेयर हरे, जबकि 25 शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए. बीएसई पर 1,298 शेयरों ने मजबूती के साथ और 1,306 शेयरों ने कमजोरी के साथ सप्ताह के कारोबार का अंत किया.<>

1
Back to top button