छत्तीसगढ़

घोघरा में लगी कलेक्टर की रात्रिकालीन चौपाल, पटवारी हुआ निलंबित

अफसरों की मौजूदगी में ग्रामीणों से जाना योजना के क्रियान्वयन का हाल

बेमेतरा। शासन की योजनाओं एवं कार्यक्रमों का मैदानी स्तर पर क्रियान्वयन की जानकारी लेने कलेक्टर महादेव कावरे अचानक नवागढ़ ब्लॉक के सुदुरवर्ती ग्राम घोघरा पहुंचे। जहां उन्होंने पंचायत भवन में रात्रिकालीन चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। ग्राम घोघरा बेमेतरा जिले के अंतिम छोर में बसा है एवं पड़ोसी जिला मुंगेली जिले की सीमा पर बसा सरहदी गांव है। कलेक्टर ने पंचायत भवन में रात्रि विश्राम किया।
कलेक्टर ने शासकीय उचित मूल्य की दुकान से मिलने वाली सामाग्री, स्कूल एवं आंगनबाड़ी केन्द्र में मध्यान्ह भोजन के संचालन, मजदूरी भुगतान, पेयजल, पीएम आवास के संबंध में जानकारी ली।

ग्रामीणों ने कलेक्टर को ग्राम चकरभाठा पहुंच निर्माण में हो रही दिक्कत से अवगत कराया। ग्रामीणों ने बताया कि चकरभाठा जाने के लिए निजी लगानी जमीन आ रही है, इस कारण सड़क निर्माण में अड़चन आ रही है। गांव के सरपंच शत्रुहन साहू ने सड़क निर्माण के लिए अपनी निजी जमीन उपलब्ध कराने की मंशा जाहिर की। कलेक्टर ने नवागढ़ तहसील के राजस्व अमले को इसका समाधान करने के निर्देश दिए ताकि पहुंच मार्ग सड़क का निर्माण आसानी से हो सके।

ग्राम घोघरा से किसली पहुंच मार्ग निर्माण में आ रही दिक्कतों के बारे में कलेक्टर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देश दिया है। इससे
दो वार्ड के लोगों को सहुलियत होगी। ग्रामीणों द्वारा पेयजल हेतु नलजल योजना की मांग की गई, जिसे तत्काल लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को कलेक्टर द्वारा निर्देश दिया गया। इसी प्रकार सरपंच द्वारा गांव में सी.सी. रोड की मांग को भी कलेक्टर द्वारा किसी भी योजना से 5 लाख रूपए की स्वीकृति दिया गया है।

इसके अलावा ग्रामीणों ने गौठान के लिए भूमि आरक्षित करने एवं बाजार के समीप वर्तमान में गौठान को गांव के बाहर ले जाने का अनुरोध किया। कलेक्टर ने किसानों से कहा कि 30 जून के पहले खाद एवं बीज के अग्रिम उठाव होने से किसानों को किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं देना होगा।

23 को ग्राम घोघरा में स्मार्ट कार्ड बनाने लगेगा शिविर
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि 23 मई को ग्राम घोघरा में स्मार्ट कार्ड बनाने के लिए शिविर लगाया जायेगा। जिसमें जिनका अब तक कार्ड नहीं बना है उनका स्मार्ट कार्ड बनाया जावेगा। सरपंच ने बताया कि ग्राम घोघरा में वर्तमान में 14 लाख रूपए की लागत से गौरवपथ का निर्माण कराया जा रहा है। कलेक्टर ने संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने ग्रामीणों से अपील की इससे जच्चा एवं बच्चा का स्वास्थ्य बेहतर रहता है। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत बनाये गये शौचालय का उपयोग करने की अपील की।

स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ डॉ एसके शर्मा ने बताया कि शासन द्वारा ग्राम रनबोड़ में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्वीकृत हुआ है। इससे ग्राम घोघरा, मानिकपुर, रनबोड़ सहित आसपास की पंचायतों को इसका लाभ मिलेगा।
प्रतिभावान छात्र किसन को मिला ईनाम

पंचायत भवन के बाहर रात्रि चैपाल में कलेक्टर ने बच्चों की पढ़ाई-लिखाई के संबंध में जानकारी ली। जिलाधीश ने गांव के छात्र किसन निर्मलकर से कक्षा दसवीं बोर्ड के रिजल्ट की जानकारी ली। किसन ने बताया बोर्ड परीक्षा में वह 80 प्रतिशत अंक लेकर उत्तीर्ण हुआ है। श्री कावरे ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए उसे बधाई देकर पांच सौ रूपए नगद पुरस्कार से सम्मानित किया। इस दौरान जनपद पंचायत सदस्य वल्लभ ठाकुर भी उपस्थित थे।

पटवारी को निलंबित करने के निर्देश
रात्रि विश्राम के दौरान ग्रामीणों ने पटवारी हल्का रनबोड़ में पदस्थ पटवारी विनोद जांगड़े के विरूद्ध गंभीर शिकायत की थी। इसे गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर ने तत्काल निलंबित करने के निर्देश नवागढ़ एसडीएम को दिए।

कलेक्टर के साथ रात्रि चौपाल में जिला पंचायत सीईओ एस. आलोक, अपर कलेक्टर केएस मंडावी, खाद्य अधिकारी भूपेन्द्र मिश्रा, सीएमएचओ डॉ एसके शर्मा, कार्यपालन अभियंता पीएचई परीक्षित चौधरी, लीड बैंक मैनेजर पी. ओडे़या, सहायक संचालक कृषि शिन्दे, नायब तहसीलदार रविन्द्र कुर्रे, जनपद सदस्य वल्लभ ठाकुर भी उपस्थित थे।

हर सोमवार को अनुविभाग मुख्यालय में एसडीएम लेंगे जनदर्शन
जिले के अनुविभाग मुख्यालय बेमतरा, नवागढ़, बेरला एवं साजा में अब प्रत्येक सोमवार को अनुविभागीय अधिकारी राजस्व आम जनता की समस्या सुनकर उनका निराकरण करेंगे। कलेक्टर महादेव कावरे ने जिले के सभी चार अनुविभागीय दंडाधिकारियों को इस आशय के निर्देश दिए हैं।

अब लोगों को छोटी-छोटी समस्याओं के लिए जिला मुख्यालय नहीं आना पड़ेगा। अनुभाग स्तर में पदस्थ अधिकारी एसडीएम की अध्यक्षता वाले जनदर्शन में उपस्थित होकर समस्याओं का निराकरण करेंगे। कलेक्टर द्वारा प्रति सप्ताह समय-सीमा की बैठक में इसकी समीक्षा भी की जाएगी। वहीं संयुक्त जिला कार्यालय भवन बेमेतरा के दृष्टि सभाकक्ष में होने वाला कलेक्टर जनदर्शन प्रत्येक मंगलवार को पूर्ववत की भांति जारी रहेगा।
<>

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: