निपाह से केरल में फिर हुई मौत, कर्नाटक में 2 की हालत बिगड़ी

देश के कई शहरों में जारी हुआ अलर्ट

कोझिकोड। केरल के कोझिकोड जिले में निपाह वायरस पीड़ित वी मूसा (61) की मौत हो गई। केरल में यह वायरस से प्रभावित 12 वें शख्स की मौत थी।

मूसा के परिवार में इससे पहले दो बेटों और एक रिश्तेदार की मौत निपाह के प्रकोप से हो चुकी है। कोझिकोड में हालात नियंत्रण में हैं लेकिन जिला कलेक्टर ने 31 मई तक लोगों के किसी भी कार्य के लिए एकत्रित होने पर रोक लगा दी है। इस बीच हिमाचल प्रदेश के एक स्कूल में मरे हुए चमगादड़ मिलने से लोग भयभीत हो गए। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्वनी चौबे ने बताया है कि चमगादड़ों के रक्त नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं, घबराने की जरूरत नहीं है।

केरल में इलाज के लिए आए 136 लोगों को कोझिकोड में और 24 लोगों को मलप्पुरम में निरीक्षण में रखा गया है। इनमें से 22 के निपाह से प्रभावित होने का अंदेशा है। इनके ब्लड सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इनमें 14 लोगों के निपाह वायरस से पीड़ित होने का पता चला है।

निपाह वायरस चमगादड़, सुअर और पीड़ित व्यक्तियों के जरिए फैलता है। इसलिए कोझिकोड में प्रशासन मृतकों के अंतिम संस्कार में भी बहुत सावधानी बरत रहा है।

कर्नाटक में जिन दो लोगों में निपाह वायरस होने के लक्षण मिले थे, उनकी हालत बिगड़ गई है। ये दोनों केरल से मंगलौर आए थे। इस बीच नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल के डायरेक्टर की अगुआई वाली टीम निपाह वायरस के मामलों की लगातार समीक्षा कर रही है। टीम केरल के दौरे पर है और वह प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के साथ तालमेल बनाकर कार्य कर रही है।

new jindal advt tree advt
Back to top button