क्राइमराष्ट्रीय

घोटाले में नीरव मोदी को भी पीछे छोड़ा, बैंकों को 8000 करोड़ का लगाया चूना, पूर्व सांसद पर सीबीआई का शिकंजा

सीबीआई सूत्रों की मानें तो यह नीरव मोदी मामले से भी बड़ा घोटाला हो सकता है।

नई दिल्ली। टीडीपी के पूर्व लोकसभा सांसद रायपति संभाविश राव पर सीबीआई ने शिकंजा कसा है। सीबीआई ने उनकी हैदराबाद स्थित कंपनी के खिलाफ 8000 करोड़ रुपये के फ्रॉड का केस दर्ज किया है। आरोप है कि कैनरा बैंक की अगुआई वाले कंसोर्टियम को बड़ा चूना लगाया है जो कि देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटालों में से एक है।

सीबीआई सूत्रों की मानें तो यह नीरव मोदी मामले से भी बड़ा घोटाला हो सकता है। सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ ने बताया, ‘कैनरा बैंक के प्रतिनिधित्व में अन्य बैंकों का एक कंसोर्टियम बनाया गया था। आरोप है कि कंपनी ने बैंक अकाउंड की बुक में फेरबदल किए, बैलंस शीट से छेड़छाड़ की और फंड की राउंड ट्रिपिंग की।’ सीबीआई का कहना है कि गड़बड़ी की वजह से बैंकों को भारी नुकसान हुआ है।

सीबीआई के मुताबिक नीरव मोदी ने 6000 करोड़ का फ्रॉड किया था जबकि मेहुल चौकसी ने 7,080.86 करोड़ की गड़बड़ी की है। यह इससे भी बड़ा बैंक घोटाला साबित हो सकता है।

बता दें पूर्व सांसद ट्रांसट्रॉय (इंडिया) लिमिटेड के अडिशनल डायरेक्टर हैं। उनके साथ अन्य लोगों पर फैब्रिकेटिंग अकाउंट्स, राउंड ट्रिपिंग और गलत तरीके से फंड जुटाने और कंसोर्टियम को 7,926 करोड़ के लोग का भुगतान न करने का आरोप है। कैनरा बैंक ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। आरोप है कि बैंकों की तरफ से मंजूर किए गए लोन अमाउंट को डायवर्ट किया गया जिससे कि 7,926.01 करोड़ का नुकसान कैनरा बैंक और अन्य बैंकों को उठाना पड़ा। यह राशि अब एनपीए बन गई है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button