निर्भया मामला : नया डेथ वारंट जारी करने के लिए याचिका दायर

नई दिल्ली: निर्भया के दोषियों को सजा दिलाने, नया डेथ वारंट जारी कराने की खातिर निर्भया मामले में तिहाड़ जेल प्रशासन ने चारों दोषियों के खिलाफ ट्रायल कोर्ट में याचिका दायर की है.

इस याचिका पर ट्रायल कोर्ट के जज धर्मेंद्र राणा ने सभी पक्षों से जवाब मांगा है. इनमें निर्भया के चारों दोषी अक्षय सिंह ठाकुर, मुकेश सिंह, विनय कुमार शर्मा और पवन गुप्ता भी शामिल हैं. तिहाड़ जेल प्रशानस की इस याचिका पर कोर्ट शुक्रवार को सुनवाई करेगा.

निचली अदालत ने 17 जनवरी को दोषी मुकेश कुमार सिंह, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और अक्षय कुमार के खिलाफ एक फरवरी के लिए दूसरी बार डेथ वारंट जारी किया था. हालांकि, दोषियों की याचिका पर एक फरवरी के लिए जारी डेथ वारंट पर निचली अदालत ने 31 जनवरी को अगले आदेश तक रोक लगा दी थी.

डेथ वारंट पर रोक लगाने के फैसले को गृह मंत्रलय ने हाई कोर्ट में चुनौती देते हुए आरोप लगाया था कि दोषी कानून का दुरुपयोग कर रहे हैं. ऐसे में समाज और कानून के हित के लिए निर्भया के गुनहगारों की फांसी में और विलंब नहीं होना चाहिए. वहीं, दोषी के अधिवक्ता ने दलील दी थी कि सभी दोषियों की कानूनी प्रक्रिया पूरी होने तक फांसी की कार्रवाई न की जाए और सभी को कानूनी प्रक्रिया पूरी करने की अनुमति दी जाए.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हाई कोर्ट का फैसला आने के बाद निर्भया की मां ने कहा कि वह फैसले से संतुष्ट हैं, लेकिन सभी दोषियों को फांसी पर लटकाए जाने के बाद ही उन्हें खुशी मिलेगी.उन्होंने कहा कि यह सरकार की अपील याचिका थी और अब सरकार सोचेगी कि दोषियों को फांसी की सजा कैसे जल्द से जल्द दी जा सकती है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले के चार दोषियों में एक अक्षय कुमार सिंह की दया याचिका खारिज कर दी है. गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बुधवार को इस बारे में बताया. सिंह ने कुछ दिन पहले राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका दाखिल की थी. एक अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति ने सिंह की दया याचिका खारिज कर दी. राष्‍ट्रपति कोविंद मामले में दो अन्य आरोपियों मुकेश सिंह और विनय कुमार शर्मा की दया याचिका पहले ही खारिज कर चुके हैं. पवन ने यह याचिका अभी नहीं दाखिल की है.

Tags
Back to top button