निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री और जयशंकर को मिली विदेश मंत्री की ज़िम्मेदारी

हरदीप सिंह पुरी को दिया गया नागरिक उड्डयन मंत्रालय का कार्यभार

नई दिल्ली: मोदी सरकार की प्रचंड जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति भवन में गुरुवार शाम 7 बजे शपथ ग्रहण समारोह में गोपनीय शपथ लिया। गुरुवार को 57 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली थी, जिन्हें मोदी सराकर में जिम्मेदारी दे दी गई है।

पिछली सरकार में रक्षा मंत्रालय का कार्यभार संभाल चुकी निर्मला सीतारमण को मोदी सराकर के इस कार्यकाल में वित्त मंत्रालय का भार सौंपा गया है। जबकि अनुराग ठाकुर को वित्त राज्य मंत्री बनाया गया है। सीतारमण देश की पहली महिला वित्तमंत्री हैं। इसके साथ ही उन्हें कॉर्पोरेट अफेयर मंत्रालय का कार्यभार भी दिया गया है। वहीं नागरिक उड्डयन मंत्रालय का कार्यभार हरदीप सिंह पुरी को दिया गया है।

पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर को विदेश मंत्री बनाया गया है। एस जयशंकर जनवरी 2015 से जनवरी 2018 तक विदेश सचिव रहे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल के बाद जयशंकर की नियुक्ति हुई थी। जयशंकर ने विदेश सचिव के रूप में अमेरिका, चीन समेत बाकी देशों के साथ भी महत्वपूर्ण बातचीतों में हिस्सा लिया। चीन के साथ 73 दिन तक चले डोकलाम विवाद को सुलझाने में भी जयशंकर का अहम रोल बताया जाता है।

इन्हें भी मिली है बड़ी जिम्मेदारी

नितिन गडकरी को रोड ट्रांसपोर्ट और हाईवे मंत्रालय, एमएसएमई का कार्यभार दिया गया है।

रामविलास पासवान को कंज्यूमर अफेयर, फुड एंड पब्लिक डिस्ट्रब्यूशन मंत्रालय दिया गया है।

नरेंद्र सिंह तोमर को किसान कल्याण और कृषि मंत्रालय, पंचायत राज मंत्रालय और ग्रामिण विकास मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।

पीयूष गोयल को एक बार फिर रेल मंत्रालय दिया गया है।

रविशंकर प्रसाद को आईटी मंत्रालय, कम्यूनिकेशन मंत्रालय और विधि एवं न्याय मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।

धर्मेंद्र प्रधान को पेट्रोलियम एवं प्रकृतिक गैस और स्टील मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।

निर्मला सीतारमण साल 2017 से रक्षा मंत्रालय का कार्यभार संभाल रही थीं। वह राज्यसभा की सदस्य हैं। इससे पहले वह दूसरी महिला थीं जिन्होंने रक्षा मंत्री के रूप में कार्य किया है। इससे पहले निर्मला सीतारमण वित्त मंत्रालय के तहत राज्य वित्तमंत्री और कॉरपोरेट अफेयर मंत्री के तौर पर भी काम किया है। इससे पहले वह भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रह चुकी हैं।

2008 में जुड़ी थी बीजेपी से

निर्मला सीतारमण ने साल 2008 में प्रवक्ता के तौर पर बीजेपी ज्वाइन की थी और उन्होंने 2014 तक इस पद पर काम किया। साल 2014 में मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में उन्हें जूनियर मंत्री के रूप में जिम्मेदारी दी गई। उन्हें आंध्रप्रदेश से राज्यसभा सदस्य बनाया गया। हालांकि सितंबर 2017 में उन्हें रक्षा मंत्री बनाया दिया गया। इंदिरा गांधी के बाद वह एक मात्र महिला हैं, जिन्होंने भारत के रक्षा मंत्री के रूप में काम किया है।

निर्मला सीतारमण का जन्म तमिलनाडु के मदुरै में हुआ था। उनके पिता भारतीय रेलवे के कर्मचारी थे, इसलिए उनका बचपन भारत के विभिन्न राज्यों में गुजरा है। उन्होंने इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन किया है और जेएनयू से मास्ट्रस डिग्री हासिल की है। सीतारमण बीजेपी से जुड़ी रही हैं, जबकि उनके पति प्रो कांग्रेस परिवार से आते हैं।

Back to top button