‘लव जिहाद’ के नाम पर छात्रा से बदसलूकी और मारपीट, 4 पुलिसकर्मी निलंबित

मेरठ:

मेरठ मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले एक छात्र और छात्रा के साथ ‘लव जिहाद’ के नाम पर बदसलूकी और मारपीट का मामला सामने आया है. कुछ लोगों ने घर में पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्रा के साथ मारपीट करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया.

पुलिस ने भी शाम तक दोनों को थाने बिठाए रखा. छात्र-छात्रा से मारपीट करने वालों ने थाने में भी घुसकर हंगामा किया और पुलिसवालों को धमकाया. बाद में पुलिस ने छात्रा को उसके घरवालों के हवाले कर दिया और छात्र को भी छोड़ दिया. इस घटना में पुलिस की भूमिका पर सवाल उठने के बाद दो कांस्टेबल, एक हेड कांस्टेबल और होमगार्ड के एक जवान को सस्पेंड कर दिया गया है.

रविवार को हुई इस घटना के संबंध में मेडिकल थाना पुलिस का कहना है कि छात्र किठौर और छात्रा हापुड़ की रहने वाली है. छात्र जागृति विहार में किराये के कमरे में रहता है जबकि छात्रा मेडिकल कॉलेज के छात्रावास में रहती है.

दोनों ने पुलिस को बताया कि वे दोस्त हैं. छात्रा ने बताया कि वह अध्ययन करने के लिए अपने दोस्त के कमरे पर आई थी. दोनों पढ़ाई कर रहे थे तभी विहिप कार्यकर्ताओं ने आकर उनसे अभद्रता की. पुलिस क्षेत्राधिकारी (सिविल लाइन) रामअर्ज के अनुसार विहित कार्यकर्ताओं की सूचना पर पुलिस छात्र-छात्रा को थाने लायी. पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर छात्रा ने अपनी मर्जी से कमरे पर आकर अध्ययन करने की बात कही. दोनों के परिजनों को बुलाकर उन्हें सुपुर्द कर दिया गया. परिजन भी कोई कार्रवाई नहीं चाहते थे.​

वहीं, विहिप प्रांत कार्यालय प्रमुख मनीष ने आरोप लगाया कि पढ़ाई की आड़ में यहां गलत काम हो रहा था. जिसको कमरा किराये पर दिया गया था उसका पहचानपत्र मकान मालिक के पास नहीं था. उन्होंने पुलिस के एंटी रोमियो अभियान पर भी सवाल उठाए.

Back to top button