नीतीश के मंत्री ने किया शहीद का अपमान, कहा-अंतिम विदाई में जाकर जिंदा कर देते?

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के करन नगर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए बिहार के भोजपुर जिले के पीरो के जवान मुजाहिद खान के जनाजे में बुधवार को कोई मंत्री या नेता नहीं पहुंचा.

लेकिन परिवार को लगा सदमा और गहरा हो गया जब बिहार सरकार में मंत्री और बीजेपी विधायक विनोद सिंह ने यह कह दिया कि अंतिम विदाई में जाकर कौन सा हम उन्हें (मुजाहिद खान) जिंदा कर देते.

भोजपुर जिले के प्रभारी मंत्री और नीतीश सरकार में खनन मंत्री विनोद सिंह ने कहा, ‘कल ही जा के क्या फायदा होता, मैंने दिल से उनको सलाम किया है, और कल ही जाके क्या हम उनको जिंदा कर देते?’ विनोद सिंह कटिहार के प्राणपुर से विधायक हैं.

आपको बता दें कि शहीद जवान को अंतिम विदाई देने के लिए उनके गांव के अलावा आसपास के गांवों से हजारों लोग पीरो पहुंचे थे, लेकिन केंद्र या राज्य सरकार का कोई मंत्री नहीं पहुंचा था.

शहीद के परिजनों का कहना है कि सरकार में शामिल लोगों में कोई संवेदना नहीं है, उनके लिए सिर्फ नोट और वोट की अहमियत है.

एक खबर के मुताबिक विनोद सिंह बुधवार को भोजपुर में मौजूद नहीं थे. इस दौरान वो कटिहार स्थित घर पर पत्नी के साथ वेलेंटाइंस डे मना रहे थे.

आपको बता दें कि शहीद के परिजन ने नीतीश सरकार द्वारा भेजी गई पांच लाख रुपये की सहायता राशि लेने से इनकार कर दिया था.

शहीद के भाई इम्तियाज ने सहायता राशि पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘मेरा भाई देश की खातिर शहीद हुआ है, शराब पीकर नहीं मरा है. मुझे अपने भाई पर गर्व है. इतनी बड़ी कुर्बानी देने वाले परिवार को कम से कम सम्मानजनक राशि तो मिले, जिससे शहीद के माता-पिता इज्जत से अपनी जिंदगी गुजार सकें.

new jindal advt tree advt
Back to top button