खेलराष्ट्रीय

निष्पक्ष रूप से नहीं खेला जाता कोई भी क्रिकेट मैच: संजीव चावला

मैच फिक्सिंग मामले के मुख्य आरोपी ने किया इस बात का दावा

नई दिल्ली: नई दिल्ली में जन्मे और लंदन में रहने वाले सट्टेबाज साल 2000 में हुए हैंसी क्रोनिए मैच फिक्सिंग मामले के मुख्य आरोपी संजीव चावला ने यह बात कबूल किया कि वो सालों मैच फिक्सिंग में शामिल रहा लेकिन वो इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दे सकता है क्योंकि “एक बहुत बड़ा सिंडिकेट / अंडरवर्ल्ड माफिया इस मामले में शामिल है और वे खतरनाक लोग और अगर वह कुछ भी कहता है तो वे उसे मार डालेंगे.”

रिपोर्ट की मानें तो जब इस बारे में स्पेशल सीपी क्राइम प्रवीर रंजन ने कहा,”चूंकि मामला अभी भी जांच के दायरे में है, इसलिए हम किसी भी विवरण को साझा करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं.”

आरोपी चावला ने दिल्ली पुलिस की दिए अपने बयान में इस बात का दावा किया है कि कोई भी क्रिकेट मैच निष्पक्ष रूप से नहीं खेला जाता है और सभी क्रिकेट मैच जो लोग देखते हैं, वह फिक्स होते हैं.

संजीव चावला ने आगे कहा कि इसमें एक बहुत बड़ा सिंडिकेट / अंडरवर्ल्ड माफिया शामिल है जो सभी मुकाबलों को प्रभावित करता है और यह बिल्कुल वैसा है जैसा एक फिल्म में दिखा जा चुका है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, चावला ने अपने दिए बयान में कहा है कि इस सिंडिकेट से इस मामले के जांच अधिकारी डीसीपी क्राइम ब्रांच डॉ राम गोपाल नाइक की जान को खतरा है.

बता दें, रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चावला के यह बयान दिल्ली पुलिस की उस सप्लीमेंट्री चार्जशीट का हिस्सा हैं, जिसे कोट में पेश किया गया है. हालांकि, अभी तक इस पर चावला ने अपने हस्ताक्षर नहीं किए हैं.

दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

इसी बीच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने अपनी चार्जशीट में लिखा है कि चावला जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं जो यह दर्शाता है कि वो इस जुर्म में शामिल है. हाल ही में ट्रायल कोर्ट के जमानत आदेश पर हाईकोर्ट ने स्टे नहीं लगाया था, जिसके बाद वो तिहारजेल सेबाहर आने में सफल हुआ था. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. इस मामले की सुनवाई अगले महीने होगी.

इस मामसे में दूसरे आरोपी कृष्ण कुमार, राजेश कालरा और सुनील दारा भी जमानत पर बाहर हैं. इस चार्जशीट में दक्षिण अफ्रीका के 2000 के भारत दौरे के दौरान चावला और अन्य द्वारा क्रिकेट मैच फिक्स करने में कथित भूमिका का विवरण है.

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: