आईएमए के विरोध का इस अस्पताल में नहीं दिखा कोई असर

नेशनल मेडिकल कमिटी के गठन का कर रहे विरोध

आईएमए के विरोध का इस अस्पताल में नहीं दिखा कोई असर

रायपुर : नेशलन मेडिकल कमिटी के गठन को लेकर इंडियन मेडिकल एसोशिएसन लगातार विरोध कर रहा है. केंद्र सरकार के इस कमिटी गठन को लेकर आईएमए के डाक्टरों ने मोर्चा खोल दिया है. इसी कड़ी में आईएमए ने सुबह छह बजे से लेकर शाम के छह बजे तक ओपीडी सेवाओं के बंद का आह्वान किया था.

जिसके चलते कई जगहों पर स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई रही. वहीँ प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल डॉ. भीमराव अम्बेडकर अस्पताल में आईएमए के बंद का कोई ख़ास असर देखने को नहीं मिला.

यहाँ हर रोज की तरह ओपीडी की सेवाओं चलती रही. इस सम्बन्ध में अस्पताल के पीआरओ ने बताया की आईएमए के बंद का मेकाहारा में किसी तरह का कोई असर नहीं है यहाँ बाकी दिनों की तरह ही मरीजों की जांच की जा रही है.

जानकारी के मुताबिक इंडियन मेडिकल एसोशिएसन की मांग है कि एक मेडिकल बोर्ड के होने के बाद भी नेशनल मेडिकल कमिटी का गठन सही नहीं है. इस सम्बन्ध में आईएमए के सदस्यों का कहना है कि केंद्र सरकार जबरदस्ती में उनपर इस कमिटी को थोप रही है. गौरतलब है कि सरकार ने जब से इस कमिटी के गठन की बात की है तभी से आईएमए लगातार इसका विरोध कर रही है.

Back to top button