24 घंटे के भीतर टिकट रद्द कराने पर नहीं लगेगा कोई शुल्क: एयर इंडिया

एयर इंडिया ने अपने खाने-पीने के मेन्यू में भी किया बड़ा बदलाव

नई दिल्ली: भारतीय विमानन नियामक डीजीसीए ने 27 फरवरी को ‘पैसेंजर चार्टर जारी किया है और इसमें विमानन कंपनियों से हवाई यात्रियों को यह सुविधा देने को कहा गया है। हालांकि अभी किसी अन्य विमानन कंपनी ने ऐसी घोषणा नहीं की है।

एयर इंडिया के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अश्वनी लोहानी ने एक सर्कुलर जारी कर इस फैसले की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यह निर्णय एक मई से बिक्री के टिकटों पर प्रभावी होगी। सभी घरेलू टिकटों में बदलाव और रद्द करने के लिए नि: शुल्क विकल्प उपलब्ध होगा।

दरअसल एयर इंडिया ने शनिवार को कहा कि एक मई से टिकट र्बुंकग के 24 घंटे के भीतर इसे रद्द कराने पर कोई शुल्क नहीं लेगा, बशर्ते यह फ्लाइट र्बुंकग के कम से कम सात दिन बाद हो।

एयर इंडिया के यात्रियों के पास यह विकल्प भी रहेगा कि बिना किसी अतिरिक्त भुगतान के अपने टिकट को रद्द या फिर फेरबदल करवा सकते हैं। हालांकि इन टिकट पर यात्रियों को उस समय के दौरान किराये का अंतर देना होगा।

हाल ही में एयर इंडिया ने अपने खाने-पीने के मेन्यू में भी बड़ा बदलाव किया है। एक अप्रैल से एयर इंडिया न सिर्फ इकोनॉमी क्लास बल्कि बिजनेस क्लास और इंटरनेशनल फ्लाइट में ज्यादा पौष्टिक खाना ग्राहकों को परोसेगी। यात्रियों को विमान में वेलकर्म ंड्रक के तौर पर आम पना, मसाला लस्सी और छाछ दिया जाएगा।

Back to top button